लालबिहारी महतो के नेतृत्व में कई लोगों ने छोड़ा दुर्गा सोरेन सेना संगठन

रामगढ़ से वली उल्लाह की रिपोर्ट

रामगढ: दुर्गा सोरेन सेना को लेकर लाल बिहारी महतो के नेतृत्व में कइयों ने छोड़ा डीएसएस आगे लालबिहारी महतो ने एक बयान जारी कर कहा है की झारखंड राज्य में दुर्गा सोरेन सेना जो के एक सामाजिक संगठन है और समाज के प्रति दुर्गा सोरेन सेना लगातार अपने कार्यों को लेकर आगे बढ़ रही है परंतु दुर्गा सोरेन सेना सामाजिक संगठन के रूप में गठन किया गया था। परंतु कुछ लोगों द्वारा दुर्गा सोरेन सेना को राजनीतिक रूप देकर इसे राजनीति से जोड़ा जा रहा था। जिसकी कोई सत्यता नहीं वह केवल एक सामाजिक संगठन है। अपने बयान में कांग्रेस रामगढ़ जिला महासचिव लाल बिहारी महतो ने कहा की दुर्गा सोरेन सेना एक सामाजिक संगठन के रूप में गठन किए थे। लेकिन कुछ व्यक्तियों के द्वारा इस संगठन को राजनीतिक रूप देने का प्रयास किया गया है। जिससे मुझे एवं हमारे साथियों को दुख हुआ और हम सबों ने विचार-विमर्श कर निर्णय लिया कि अब हम सब डीएसएस से छुटकारा पाने के लिए हम लोग सामूहिक रूप से अलग हो रहे हैं।
संगठन छोड़ने वालों में यह रहे शामिल केंद्रीय सह पर्यवेक्षक लाल बिहारी महतो, केंद्रीय सदस्य सुरेश कुमार, अकलू बेदिया, सेवा पदों महतो, दीपक सिंह टाइगर, कुंदन गोप, कृष्णा ठाकुर, नागेंद्र प्रसाद, टेकलाल महतो, संदीप महतो, अमजद अंसारी, बसारत अंसारी, राजेश बेदिया, सुखलाल करमाली, माधवी देवी, राजेंद्र वैद्य जगा बेदिया, शिवचरण बेदिया, सुरेश बेदिया, जीतू बेदिया, धर्मेंद्र बेदिया, रोशन बेदिय, विमल उरांव, देवराज बेदिया, देवचारण बेदिया, जगतपाल बेदिया, मुकेश बेदिया, सचिन मुंडा, अमित उरांव, मोहन उरांव, कुलदीप बेदिया, छोटेलाल बेदिया, दीपक बेदिया, अर्जुन बेदिया, अजय रजवार सहित कई शामिल थे।