मवेशियों के मौत के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने किया सड़क जाम

महेशपुर:आमड़ापड़ा पाकुड़ माइंस सड़क पोखरिया गांव में बिते देर रात को पोखरिया गांव के बीचो बिच अज्ञात हाइवा की चपेट में आने से दो गाय के अलग अलग दो बछड़ा की मौत हो गई l घटना शुक्रवार रात की बताई जाती है l घटना के बावत बछड़ा मालिक भिसन मुर्मू व चन्दन मरांडी ने जानकारी देते हुये बताया की दोनों बछड़ा देर रात तक सड़क किनारे बैठा था इसी दौरान डब्लूपिडीसीएल के बीजीआर कोल कंपनी द्वारा सड़क पर दौड़ रही कोयला ढोने वाली अज्ञात हाइवा पाकुड़ से कोयला खाली कर तेजी व लापरवाही से आ रही हाइवा ने दोनों बछड़ा को रौंदते हुये फरार हो गया जिससे दोनों बछड़ा की मौत घटना स्थल पर ही हो गया lइधर घटना की खबर जैसे ही ग्रामीणों को मिली की आनन फानन में घटना स्थल पहुँचकर देखा तो पता चला की दोनों बछड़ा मृत अवस्था में पड़ा है lआक्रोशित ग्रामीणों ने घटना के बाद रात से ही डंपर परिचालन को रोक दिया और बछड़ा की उचित मुवावजा की मांग को लेकर सड़क पर डट गया l बताया जाता है की घटना के 12 घण्टे बित जाने के बाद भी न तो डंपर परिचालन हुवा और न ही ग्रामीणों की मांग पर कोई बार्ता हो पाईl चूँकि ग्रामीण का मांग पर अभी तक कोई ठोस पहल कोल कंपनी की ओर से नहीं हो पाई थी l कुछ ग्रामीण बताते हैं की कंपनी में कार्यरत कुछ ट्रांसपोर्ट के दलाल किस्म के लोग पहुँचे तो थे परंतु उसकी बात पर ग्रामीण मानने को तैयार नहीं थे इसलिये की उचित मुवावजा की पुर्ति नहीं कर पा रहा था और ग्रामीण अपनी मांग को लेकर जिद पर अड़े थे l भाजपा नेता दुर्गा मरांडी ,पंचानंद ठाकुर ,मसीह किस्कु,दीनानाथ रविदास ,रामप्रसाद रविदास की उपस्थिति में ग्रामीणों के साथ वार्ता कर कोल कंपनी की ट्रांसपोर्ट के द्वारा मुवावजा की राशि देने की आश्वासन के बाद ग्रामीण सड़क जाम को वापस लिया l