जिला समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की अद्यतन स्थिति की समीक्षा हेतु बैठक संपन्न

गुमला : उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में जिला समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की अद्यतन स्थिति की समीक्षा हेतु बैठक आईटीडीए भवन के सभागार में किया गया।
बैठक में आंगनबाड़ी केंद्रों के विद्युतिकरण की समीक्षा की गई। जिला समाज कल्याण पदाधिकारी ने बताया कि जिले के 860 आंगनबाड़ी केंद्रों में विद्युतिकरण हेतु आवेदन एवं राशि विद्युत विभाग के पास जमा कर दी गई है, किंतु विद्युत विभाग द्वारा सर्फ 07 ही आंगनबाड़ी केंद्रों में विद्युतिकरण किया गया है। इसपर उपायुक्त ने मॉडल आंगनबाड़ी केंद्रो में प्राथमिकता के आदार पर निर्बाध विद्युत की व्यवस्था बहाल करने का निर्देश कार्यपालक अभियंता विद्युत प्रमंडल को दिया।
बैठक में उपायुक्त ने जिलांतर्गत आंगनबाड़ी केंद्रों में टी.एच.आर (टेक होम राशन) वितरण की समीक्षा की। समीक्षा के क्रम में जिला समाज कल्याण पदाधिकारी ने बताया कि माह जुलाई एवं अगस्त का टी.एच.आर वितरित कर दिया गया है तथा वर्तमान में सितंबर माह का वितरण प्रारंभ कर दिया गया है।
प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की समीक्षा की गई। समीक्षा के दौरान पाया गया कि विगत 19 अगस्त 2021 तक 25986 लाभुकों का पंजीकरण किया गया था तथा 23 सितंबर 2021 तक कुल 26869 लाभुकों का पंजीकरण कर लिया गया है। सुकन्या पोर्टल पर नए आवेदनों की प्रविष्टि एवं भुगतान की समीक्षा के क्रम में पाया गया कि विगत 19 अगस्त 2021 तक टीएसपी हेतु 1141 आवेदन तथा एससीपी हेतु 31 आवेदन प्राप्त किए गए। वहीं 23 सितंबर 2021 तक टीएसपी हेतु 1141 के अतिरिक्त 2577 व एससीपी में 121 आवेदन प्राप्त किए गए। इस तरह कुल 48 प्रतिशत उपलब्धि दर्ज की गई। इसपर उपायुक्त ने शेष आवेदनों का भी अगले दो दिनों में निष्पादन सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।
पोषण ट्रैकर ऐप पर लाभार्थियों के डाटा प्रविष्टि करने की अद्यतन स्थिति की समीक्षा की गई। समीक्षा के क्रम में जिला समाज कल्याण पदाधिकारी ने बताया कि ऐप पर आंगनबाड़ी सेविकाओं के द्वारा 89 प्रतिशत लाभार्थियों की प्रविष्टियां दर्ज कर दी गई है, किंतु मात्र 152 आंगनबाड़ी केंद्र भवनों की ही प्रविष्टियां ऐप कर की गई है। इसपर उपायुक्त ने 30 सितंबर तक ऐप पर शत-प्रतिशत आंगनबाड़ी भवनों की प्रविष्टियां सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।
बैठक में आंगनबाड़ी सेविका/ सहायिकाओं के चयन की अद्यतन स्थिति की समीक्षा की गई। समीक्षा के क्रम में पाया गया कि सेविकाओं के लिए 10 पद रिक्त हैं जिसमें से 03 पदों के लिए आम सभा कर ली गई है, अनुमोदन की प्रक्रिया बाकी है तथा सहायिकाओं के लिए 12 पद रिक्त हैं, जिसमें से 04 पदों के लिए आम सभा कर ली गई है। इसपर उपायुक्त ने शेष पदों में भी आमसभा कराते हुए सेविका/ सहायिकाओं के रिक्त पदों के लिए सरकार द्वारा निर्धारित मानदंडों के आधार पर सुयोग्य उम्मीदवारों का चयन 30 सितंबर तक पूर्ण करने का निर्देश दिया।
उपस्थिति: बैठक में उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी सीता पुष्पा, कार्यपालक अभियंता विद्युत प्रमंडल सत्यनारायण पातर, सभी बाल विकास परियोजना पदाधिकारी/ महिला पर्यवेक्षिका व अन्य उपस्थित थे।