त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में प्रत्याशी चयन को लेकर मुड़िया में बैठक

कांड्रा से के दुर्गा राव की रिपोर्ट

कांड्रा: गम्हरिया प्रखंड अंतर्गत मुड़िया पंचायत के चांदनी चौक पर बुधवार को मोहम्मद करीम की अध्यक्षता में वीरबांस एवं मुड़िया पंचायत के गणमान्य व्यक्तियों की एक बैठक हुई जिसमें आगामी त्रिस्तरीय पंचायत राज के निर्वाचन में गम्हरिया प्रखंड भाग 13 के लिए जिला परिषद सदस्य के संभावित प्रत्याशी का चयन को लेकर विचार विमर्श किया गया। बैठक में उपस्थित दोनों पंचायत के लोगों ने एक स्वर पर गम्हरिया भाग 13 के जिला परिषद सदस्य के लिए बालिगुमा के अख्तर हुसैन के नाम की सहमति जताई। ग्रामीणों ने कहा कि अख्तर हुसैन इस क्षेत्र के लिए कर्मठ एवं जुझारू प्रत्याशी हैं जो विकास कार्य एवं लोगों के सुख दुख में साथ रहते हैं। बैठक में मौलाना मुजफ्फर, अश्विनी मंडल, जावेद अख्तर, अब्दुल कुद्दुस, शेख बशीर समय कई लोगों ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि अख्तर हुसैन जिला परिषद सदस्य पद के लिए योग्य प्रत्याशी हैं हम सब मिलकर इन्हें दिल खोलकर समर्थन देना चाहिए। उनकी बातों को समर्थन देते हुए उपस्थित लोगों ने एकमत से अख्तर हुसैन को समर्थन देने की बात कही। बैठक में मुख्य रूप से उपस्थित रामकृष्ण फोर्जिंग के चीफ एचआर हेड शक्ति प्रसाद सेनापति ने कहा कि अख्तर हुसैन जिला परिषद सदस्य के लिए खुद चुनाव मैं खड़े नहीं हुए हैं बल्कि क्षेत्र के विभिन्न पंचायतों के प्रबुद्ध नागरिकों के आग्रह पर ही वह चुनाव लड़ने को तैयार हुए हैं। अख्तर हुसैन एक कर्मठ युवा प्रत्याशी हैं इन्हें एक बार मौका देना जरूरी है। अब हम सबको मिलकर इन्हें जिला परिषद सदस्य के रूप में विजयी बनाना है। बैठक को संबोधित करते हुए अख्तर हुसैन ने कहा कि हमें बड़े बुजुर्ग एवं युवा वर्ग ने गम्हरिया भाग 13 से जिला परिषद सदस्य का चुनाव लड़ने के लिए तैयार किया। आप लोगों ने मुझे प्रत्याशी के रूप में चयन किया है, इसके लिए मैं आप सबों को तहे दिल से शुक्रिया अदा कर करता हूं। अब मुझे आप लोगों से दुआ व आशीर्वाद चाहिए। मुझे एक एक बार क्षेत्र का नेतृत्व करने का अवसर दें मैं आप लोगों की आशा व उम्मीदों पर खरा उतरने का हर संभव प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद ही नहीं पूरा भरोसा है कि बड़े बुजुर्गों एवं युवा वर्ग का आशीर्वाद और दुआ मिलेगा और मुझे जरूर सफलता मिलेगी। बैठक में मुख्य रूप से हाजी अब्दुल मजीद, विष्णु दास, बुद्धेश्वर कुंभकार, जगदीश दास, रंजीत बारीकं, लखींद्र हसदा, अब्दुल रहमान, शेख सोहराप,, मोहम्मद मुख्तार, अमजद हुसैन, शेख करीम, देवासी हौसला व मोहम्मद मुस्लिम समय सैकड़ों ग्रामीण उपस्थित थे।