सीमांकन को लेकर कुदामसदा जंगल के तीन सीमाना पर बैठक

वनक्षेत्र और गांव के नक्शा का हुआ मिलान

विधायक दीपक बिरुवा ने दिया आपसी मेल-मिलाप के साथ रहने का दिया संदेश
रामगोपाल जेना

चाईबासा। टोन्टो प्रखंड के केंजरा-कुदामसदा-हरताहातु- सालीकुटी गांवों के वनपट्टाधारियों की पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार मंगलवार को सुदूरवर्ती तीन सीमाना स्थल कुदामसदा में सीमांकन मामले पर बैठक हुई।
जिसमें मुख्य रूप से माननीय विधायक दीपक बिरुवा, टोन्टो प्रखंड प्रमुख मंगल तुबिद, वनपाल विपीन पूर्ति, वन आरक्षी शनिचर हांसदा , राजस्व उप निरीक्षक कृष्ण चंद्र बिरुवा, चारों गांव के मुंडा और ग्रामीण मौजूद थे। जानकारी हो कि सीमांकन नहीं होने से वनपट्टा लाभुकों के बीच असंमजस की स्थिति है।
बैठक में विधायक दीपक बिरुवा ने चारों गांव के लोगों से आपसी मेल-मिलाप के साथ रहने का आग्रह किया। सीमांकन के बाद सभी को अपना अधिकार मिलेगा।
इस संयुक्त बैठक में सभी गांव के नक्शा शीट का मिलान किया गया। गांव और वन क्षेत्र के सीमांकन नक्शा में चिन्हित किया गया। बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि चिन्हित सीमांकन के ट्रेस के लिए अमीन की जरूरत होगी। इसलिए सभी मुंडा 1 सितंबर को अंचल कार्यालय में सभी गांव के मुंडा अपने क्षेत्र के नक्शे को लेकर 5 रैयत और अमीन के साथ जुटेंगे। इस प्रक्रिया के बाद जो भी मार्किंग होगा, उसके आलोक में
सीमांकन जल्द ही कराया जाएगा।
बैठक में कुदामसदा मुंडा मारतम लागुरी, केंजरा मुंडा जामदार हेस्सा, सालीकुटी मुंडा चोकरो हेस्सा समेत संख्या में रैयत थे।