गढ़वा : जांच के नाम पर बेवजह परेशान नहीं करने का मंत्री ने अधिकारियों को दिया निर्देश

आम जनों से भी ई पास व मास्क का उपयोग करने की अपील

गढ़वा से नित्यानंद दुबे की रिपोर्ट

गढ़वा : झारखंड सरकार के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर ने उपायुक्त एवं आरक्षी अधीक्षक को जांच के नाम पर आम लोगों को बेवजह परेशान नहीं करने का निर्देश दिया है। मंत्री ने कहा है कि कोरोना काल में सभी लोग महामारी से परेशान हैं। ऐसी स्थिति में लोगों को बेवजह जांच के नाम पर परेशान करना कहीं से भी उचित नहीं है। सड़क पर निकलने वाले लोगों का सिर्फ मास्क एवं ई पास ही जांच किया जाए। अन्य कागजात की जांच करना आज के समय में उचित नहीं है।
मंत्री ने कहा है कि चालान काटने कटाने के नाम पर परिवहन कार्यालय में बेवजह भीड़ उमड़ रही है। इसको भी नियंत्रित करने की आवश्यकता है। सभी लोग इस कोरोना काल में महामारी से जूझ रहे हैं। बहुतों ने अपने परिजनों को खो दिया है।इसमें सभी को सावधानी बरतने की जरूरत है। एक तरफ करोना की मार तथा दूसरी ओर बेवजह जांच से लोग काफी परेशान हो रहे हैं।
मंत्री श्री ठाकुर ने आम जनों से भी अपील करते हुए कहा है कि कोई भी व्यक्ति अति आवश्यक कार्य पड़ने पर ही घर से बाहर निकले। बेवजह सड़क पर भीड़ बढ़ाने की आवश्यकता नहीं है। मास्क एवं सैनिटाइजर का प्रयोग सभी लोग निश्चित रूप से करें। मंत्री ने कहा कि ई पास बनाना काफी आसान है। जब अति आवश्यक हो तभी बनवाएं और घर से बाहर निकलें। अन्यथा बेवजह ई पास बनवा कर शहर में घूमने का कोई औचित्य नहीं है। आम लोगों से कहा है कि सभी लोग खुद सुरक्षित रहें साथ ही अपने घर परिवार एवं समाज को भी सुरक्षित रखें। इस महामारी बेवजह बेवजह घर से बाहर नहीं निकल कर प्रशासन को भी सहयोग करें। कोरोना से लड़ना सभी की जिम्मेवारी है। कोई भी व्यक्ति ई पास का दुरुपयोग नहीं करें। आज के परिवेश में सतर्कता ही सुरक्षा है। मंत्री ने सभी लोगों से निश्चित रूप से कोविड का टीकाकरण कराने तथा हल्का लक्षण भी मालूम पड़ने पर तुरंत कोरोना की जांच कराने की अपील किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *