दिवंगत सैनिक के परिजनों से मिले विधायक, कई श्राद्ध कार्यक्रम में भी हुए शामिल

मयूरहंड(चतरा)। आखिरकार स्थनिय लोगों के विरोध के बाद 49 दिन बाद सोमवार को भाजपा से सिमरिया विधायक किशुन कुमार दास मयूरहंड प्रखंड मुख्यालय स्थित दिवंगत सैनिक अनुपम कुमार सिंह उर्फ बिट्टू सिंह के घर पहुंचकर परिजनों से मिले। इस दौरान विधायक परिजनों को हर संभव मदद करने का भरोसा दिलाते हुए सरकारी स्तर पर भी लाभ दिलाने का आश्वासन दिया। साथ ही दिवंगत सैनिक की पत्नी को सैनिक विभाग के अग्रेतर कार्यवाही के बाद राज्य सरकार में नौकरी दिलाने के लिए सदन में आवाज उठाने की बात कही। वहीं विधायक ने पीड़ित परिवार को सहायता राशि भी दिया। ज्ञात हो कि दिवंगत सैनिक अपने जीजा के श्राद्धकर्म में शामिल होने अंबाला से छुट्टी लेकर गांव लौटने के क्रम में हुए सड़क हादसे में घायल हो गए थे और 25 मई को सैनिक अस्पताल रांची नामकुम में इलाज के दौरान मौत हो गई थी। इसके बाद विधायक दंदाहा मोड सडक दुर्घटना में मृत युवकों के परिजनों से मिलने कुम्हारी गांव पहुंचे। जहां मृतक सनी कुमार सिंह के पिता शलेश सिंह व मृतक अशोक ठाकुर के पिता अकलू ठाकुर से मुलाकात कर ढाढस बंधाया व हर संभव मदद का आश्वासन भी दिया। साथ ही डीलर संघ के  पूर्व अध्यक्ष कुम्हारी निवासी सीताराम सिंह के पिता अनिरुद्ध सिंह के दशकर्म में भी शामिल हुए। दशकर्म में आजसू नेता मनोज चंद्रा भी शामिल हुए। इसके अलावे मयूरहंड निवास सतेंद्र साव के भतीजे के दशकर्म में भी विधायक शामिल हुए। विधायक के साथ भाजपा मंडल अध्यक्ष बिक्रम कुमार सिंह, पूर्व मंडल अध्यक्ष अश्विनी कुमार सिंह, पूर्व मुखिया अनिल कुमार सिंह, रसिक सिरोमणी, दहिन सिंह के अलावा कई पार्टी नेता शामिल थे।