पहली बारिश भी नहीं झेल पाया मनरेगा से बना कूप

गढ़वा से नित्यानंद दुबे की रिपोर्ट
गढ़वा: मनरेगा योजना से निर्मित कूप पहली बारिश ही नहीं झेल पाया. कुआं पूरी तरह से धंस गया, जो निर्माण में बरती गई अनियमितता को साफ दर्शाता है.
दरअसल, बड़गड़ प्रखंड अंतर्गत परसवार पंचायत के बोडरी गाँव में बिनोद सिंह के घर के पास गलत तरीके से जमीन का चयन कर मनरेगा योजना के तहत 3 लाख 51 हजार रुपये की राशि से कूप का निर्माण करवाया गया था. गलत स्थान का चयन एवं कूप निर्माण में पंचायत की मुखिया के अलावा पंचायत सचिव, कनीय अभियंता, ग्राम रोजगार सेवक सभी की आपसी रजामंदी थी.
लोगों द्वारा मिली जानकारी के अनुसार उस कुएं का निर्माण रोजगार सेवक कुंवर सिंह द्बारा 2020 में करवाया गया था पहली बरसात भी कुआं नहीं झेल पाया और धंस गया।
ज्ञात हो कि मनरेगा के तहत कुआं बनाने के लिए 3 लाख 51 हजार की राशि प्रदान की जाती है. जिनमें से 1 लाख 87 हजार रुपये निर्माण सामान के लिए दिए जाते हैं. जबकि बाकी की राशि मजदूरी में खर्च होती है।
बड़गड़ बी डी ओ विपिन कुमार भारती ने कहा है जांच कर दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी तथा सरकारी पैसे की रिकवरी की जाएगी।