70 प्रतिशत रोजगार देने वाले कृषि क्षेत्र को मोदी सरकार ने अंबानी अडानी के हवाले कर दिया: महेंद्र

हजारीबागः  अखिल भारतीय किसान सभा हजारीबाग जिला परिषद की ओर से केंद्र सरकार के किसान विरोधी नीतियों के विरोध में जिला परिषद चौक मे धरना स्थल पर एक दिवसीय धरना का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता वरिष्ठ नेता प्रवीण मेहता ने किया ,संचालन महेंद्र प्रजापति ने किया ।सभा को अखिल भारतीय किसान सभा के महासचिव महेंद्र पाठक, जिलाध्यक्ष नेमन यादव, जिला सचिव मजीद अंसारी, वरिष्ठ नेता प्रवीण मेहता सहित कई लोगों ने संबोधित किया।
लोगों को संबोधित करते हुए महेंद्र पाठक ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार जब से सत्ता में आई है तब से लगातार किसानों पर हमला कर रहि हैं। देश के उद्योगपति अडानी अंबानी से मिलकर देश के 70% रोजगार देने वाला कृषि क्षेत्र को उनके हवाले कर रही है। इसीलिए हरियाणा पंजाब से लेकर बिहार कटिहार मैं कई बड़े-बड़े साइलो बनाकर अवैध तरीके से अनाज का भंडारण होगी। प्रवीण मेहता ने कहा कि जल जंगल जमीन की हिफाजत के लिए लाल झंडा संघर्ष करती रही है आगे भी करती रहेगी। किसान विरोधी कानून के विरोध में राष्ट्रव्यापी चल रहे दिल्ली के बॉर्डर पर आंदोलन के समर्थन में आज 1 सितंबर को पूरे देश में किसान मांग दिवस के अवसर पर किसान विरोधी तीनों काला कानून को निरस्त करने ,किसानों के फसल के लाभकारी मूल्य देने, न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारंटी के लिए कानून बनाने, 60 वर्ष उम्र के सभी किसानों को ₹10000 मासिक पेंशन देने, गैरमजरूआ जमीन के बंद पड़े रसीद को चालू करने, असमसान , नदी ,नाला के जमीन के अवैध बंदोबस्ती को रद्द करने ,आदि कई मांगों के समर्थन में धरना दिया गया,। सभा को अखिल भारतीय किसान सभा के महासचिव महेंद्र पाठक ,वरिष्ठ नेता प्रवीण मेहता, डॉ मिथिलेश दागी ,स्वदेशी पासवान, गुलाम जिलानी ,शंभू कुमार, जिला अध्यक्ष निर्मल यादव ,मजीद अंसारी, इम्तियाज पालम, चांद खान, महेंद्र प्रजापति ,सुखदेव सिह ,बालेश्वर प्रसाद मेहता सहित कई लोगों ने संबोधित किया।
वहां पर धरना मे दर्जनों महिला पुरुष मौजूद थे।