मोदी सरकार किसान ही नहीं बल्कि गरीब व मजदूर विरोधी सरकार है : विजय सिंह

बसंत कुमार गुप्ता

गुमला: दिल्ली में किसान विरोधी कृषि बिल की वापसी को लेकर 26 नवंबर 2020 से लगातार शहादत देकर संघर्षरत किसानों के आंदोलन का 6 महीने पूरा होने पर संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा बुलाई गई देशव्यापी काला दिवस के समर्थन में मार्क्सवादी कोऑर्डिनेशन कमिटी केंद्रीय समिति ने आंदोलन को अपना समर्थन दिया है । जिसके तहत पार्टी के वरिष्ठ नेता सह झारखंड नवनिर्माण दल के संयोजक विजय सिंह ने कोरोना महामारी के मद्देनजर अपने घाघरा स्थित आवास में धरना में बैठकर काला दिवस का समर्थन किया । वहीं मार्क्सवादी कोऑर्डिनेशन कमिटी के जिला अध्यक्ष आदित्य सिंह अपने सिसई के कुलकुपी गांव स्थित आवास में तथा पार्टी के जिला सचिव प्रकाश उरांव ने अपने बिशुनपुर स्थित आवास में काला दिवस को धरना देकर समर्थन दिया । इस मौके पर पार्टी के वरिष्ठ नेता सह जेएनडी के संयोजक विजय सिंह ने कहा कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार किसान ही नहीं बल्कि गरीब व मजदूर विरोधी सरकार है , यही कारण है कि देश के मेहनतकश गरीब जनता महंगाई , भ्रष्टाचार व बेरोजगारी जैसी समस्या से तबाह व बदहाल है । श्री सिंह ने यह भी कहा कि अमीरों की चाकरी करने वाली मोदी सरकार मुनाफे पर चलने वाली रेल – तेल , बैंक – बीमा इत्यादि कंपनियों का निजीकरण कर देश का भट्ठा बैठाने में जुटी है , जिसे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा । अन्नदाता किसानों द्वारा 6 माह से सैंकड़ों शहादत देकर आंदोलन चलाया जा रहा है जिसकी चिंता मोदी सरकार को तनिक भी नहीं है , वहीं भाजपा झारखंड में किसान हित की नौटंकी कर रही है ।
श्री सिंह ने किसान विरोधी कृषि बिल जल्द वापस नहीं होने की स्थिति में व्यापक आंदोलन के लिए किसानों को तैयार होने की भी अपील की है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *