मोस्ट वांटेड प्रमोद ओझा गिरफ्तार, गैंगरेप, जानलेवा हमला, तस्करी सहित कई मामले में थी तलाश 

बोकारो से जय सिन्हा
बोकारो: स्नातक की छात्रा से गैंगरेप, गांजा तस्करी व युवक पर जानलेवा हमले के संगीन आरोपी प्रमोद ओझा को गुरुवार की देर रात नगर के सेक्टर तीन स्थित आवास गिरफ्तार कर किया है। प्रमोद ओझा को बोकारो पुलिस लम्बे अरसे से तलाश थी। पुलिस रिकॉर्ड में इसे मोस्ट वांटेड अपराधी की श्रेणी में रखा गया है। जिले के बीएस सिटी, बालीडीह, सहित कई क्षेत्रों में यह आपराधिक घटनाओं को अंजाम दे पुलिस के लिए चुनौती बना हुआ था।पूर्व में इसपर हत्या , रँगवज़ी का मामला दर्ज था। लेकिन 10 फरवरी को स्नातक की छात्रा से को-ऑपरेटिव में सहयोगी आरजू (सजायाफ्ता कुख्यात अपराधी) मल्लिक, जालिम अंसारी, नितेश पांडे व जबरन शादी कराने वाले पंडित के गिरफ्तारी के बाद इसकी गिरफ्तारी के लिए एसपी चंदन कुमार झा ने एसआइटी का गठन किया था। इसी विशेष टीम ने गुरुवार को सिटी व चास महिला पुलिस ने टाउन डीएसपी कुलदीप कुमार के नेतृत्व में संगीन अपराधी प्रमोद ओझा को सेक्टर तीन के एक मकान से धर दबोचा है। सूचना के बाद बालीडीह पुलिस की टीम भी सिटी थाने पंहुची है, वो गांजा तस्करी के फैले नेटवर्क को खंगालेगी। इधर चास महिला पुलिस गैंगरेप के मामले में मुख्य आरोपी आरजू मल्लिक व अन्य आरोपियो का लोकेशन खंगालने में जुट गई है। एसआइटी को उम्मीद है कि पूछताछ में हाल के दिनों में घटित अन्य अपराधों को भी सुलझाने में सफलता मिलेगी। गिरफ्तार आरोपी गैंगरेप की घटना के बाद आरजू के साथ जमुई के नक्सल रेंज में अपना ठिकाना बनाए हुए था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *