संगीतमय श्रीमद् भागवत सप्ताह ज्ञान यज्ञ कथा चक्रधरपुर में आज से

रामगोपाल जेना
चक्रधरपुर: चक्रधरपुर शहर के चांदमारी स्थित श्री श्याम नारायण शौण्डिक धर्मशाला में 28 सितंबर से संगीतमय श्रीमद् भागवत सप्ताह ज्ञान यज्ञ का आरंभ होने जा रहा है। यह कार्यक्रम 4 अक्टूबर तक चलेगी। प्रत्येक दिन दोपहर तीन बजे से संध्या छह बजे तक भागवत कथा वाचन चलेगा। कार्यक्रम का आयोजन मानव सेवा कल्याण समिति की ओर से की जा रही है। जिसका सहयोग गिरिराज सेना चक्रधरपुर कर रही है। यह जानकारी देते हुए पंडित अनंत पाठक ने बताया कि कथा वाचन गुजरात के द्वारका शारदापीठ के परम श्रद्धेय आचार्य क्षितिज जी महाराज द्वारा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि विगत दो वर्षों से कोरोना महामारी से कई लोगों का मृत्यु हो गया है। महामारी में मरने वाले लोग, किसी किसी का अंतिम संस्कार और श्राद्ध ठीक से नहीं हुआ है जिस करण वह प्रेतयुनिक हो गये होंगे। इन सभी बातों को मद्देनजर रखते हुए नगर के पैत्रों के कल्याणार्थ तथा पूर्वजों के आत्म शांति प्रदान करने के लिए श्रीमद् भागवत कथा के द्वारा मुक्ति की प्राप्ति हो सकती है। जिसके लिए प्रेत पीड़ा विनाशिनी भागवत कथा श्रवण कराने के लिए यह कार्यक्रम पितृपक्ष में आयोजित किए गये हैं। जिसका शुभारंभ 28 सितंबर को शोभा कलश यात्रा से होगा। यह कलशयात्रा मंगलवार की सुबह सात बजे पंडित हाता शिव मंदिर से शौण्डिक धर्मशाला के लिए निकलेगा। 28 को दोपहर तीन बजे धर्मशाला में श्रीमद् भागवत जी का महात्म्य, गोकर्ण उपाख्यान कार्यक्रम होगा। जबकि 29 सितंबर को परिक्षित शुभ संवाद, 30 सितंबर को सृष्टि वर्णन, शिव चरित्र, एक अक्टूबर को विविध अवतार कथा, कृष्ण जन्म, दो अक्टूबर को बाल लीला गवर्धन, तीन अक्टूबर को रास पंचाध्यायर रुकर्माण मंगल तथा चार अक्टूबर को सुदामा चरित्र परिखित मोक्ष पूर्णाहुति होगा। पंडित अनंत पाठक ने नगरवासियों से अपील किया है कि ज्यादा से ज्यादा लोग उपस्थित होकर संगीत मय श्रीमद् भागवत सप्ताह ज्ञानयज्ञ का आनंद उठाए और कार्यक्रम को सफल बनाए।