चतरा: एनआईए ने चतरा में की बड़ी कार्रवाई, टीएसपीसी सुप्रीमो के नाम पर संचालित कॉलेज को किया सील

चतरा। जिले के टंडवा थाना क्षेत्र में संचालित मगध-आम्रपाली कोल परियोजना में उग्रवादी, प्रबंधन व ट्रांसपोर्टर गठजोड़ और टेरर फंडिंग की जांच कर रही नेशनल इन्वेस्टिंग एजेंसी ने बड़ी कार्रवाई करते हुए टीएसपीसी सुप्रीमो के नाम से संचालित काॅलेज को सील कर दिया है। जिले के लावालौंग में संचालित गोपाल सिंह भेक्ता इंटर कॉलेज (जीएसबी कॉलेज) को एनआईए ने सील किया है। आरोप है कि इस कॉलेज की जमीन की खरीदारी और बनाए गए भवन में टेरर फंडिंग के रुपए का उपयोग हुआ है। गोपाल सिंह भोक्ता उर्फ ब्रजेश गंझू उग्रवादी संगठन टीएसपीसी का सुप्रीमो है और एनआईए उसके खिलाफ टेरर फंडिंग के मामले में पहले से जांच कर रही है। आरोप है कि उग्रवादी संगठनों के नाम पर चतरा के टंडवा स्थित मगध व आम्रपाली कोयला परियोजना से जुड़े ठेकेदार, कोयला व्यवसायी, कोल ट्रांसपोटर्स से लेवी-रंगदारी वसूलकर उग्रवादियों ने ने अकूत संपत्ति अर्जित की है। सूत्रों की माने तो कॉलेज लगभग ढाई एकड़ (245 डिसमिल) भूमि पर स्थित है और ब्रजेश गंझू की पत्नी चंपा देवी के नाम पर है। कोल परियोजनाओं में टेरर फंडिंग की जांच कर रही एनआईए को कई अहम सुराग हाथ लगे हैं। इसी साल जनवरी महीने में मोस्ट वांटेड नक्सली 15 लाख के इनामी मुकेश गंझू ने पुलिस के समक्ष सरेंडर किया था। उससे पूछताछ में कोल परियोजनाओं से लेवी वसूली के नेटवर्क का खुलासा हुआ है। मुकेश ने कोल परियोजना शुरू करवाने में उग्रवादी संगठन की भूमिका के बारे में पुलिस को अहम जानकारियां दी गई है। जिसपर जांच करते हुए एनआईए कार्रवाई कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *