पीजी विद्यार्थियों के मामलों को लेकर एनएसयूआई ने रांची विश्वविद्यालय में की तालाबंदी 

विशेष परीक्षा कराने की मांग।
एक सप्ताह में विशेष परीक्षा की तिथि घोषित की जाएगी- परीक्षा नियंत्रक

रांची:  कांग्रेस छात्र संगठन झारखंड एन.एस.यू.आई के प्रदेश उपाध्यक्ष इंदरजीत सिंह के नेतृत्व में रांची विश्वविद्यालय के पी.जी फाइनल ईयर के विद्यार्थियों के मामलों को लेकर रांची विश्वविद्यालय में तालाबंदी की एवं परीक्षा नियंत्रक का घेराव किया। विदित ही कि पी.जी के विद्यार्थी सत्र 2019- 21 के फोर्थ सेमेस्टर के गणित और जूलॉजी के 50% विद्यार्थियों को फेल कर दिया गया है। कोरोना काल मे ऑनलाइन पढ़ाई हुई और ऑफ लाइन परीक्षा हुई और जब परीक्षा परिणाम आया तो दो विषय गणित और जूलॉजी में 50% विद्यार्थि फेल है। दोपहर 12 बजे से ही सभी विद्यार्थी एवं NSUI के पदाधिकारियों के साथ यूनिवर्सिटी पहुचे एवं मैन गेट पर तालाबंदी कर दिया गया। लगभग 2 घंटो तक तालाबंदी की गई। उस के बाद परीक्षा नियंत्रक यूनिवर्सिटी पहुचे एवं सभी को वार्ता के लिए बुलाया।
सभी मामलों को सुनने के बाद परीक्षा नियंत्रक आशीष झा ने कहा कि जिन विद्यार्थियों को किसी भी सेमेस्टर में ग्रेस मार्क्स नही मिले है और इस फाइनल सेमेस्टर में 5 नंबर के चलते फेल है उन सबको ग्रेस मार्क्स दे दिया जाएगा और पास किया जाएगा। साथ ही गणित और जूलॉजी विषय मे फेल विद्यार्थियों की विशेष परीक्षा ली जाएगी। पांच दिन का समय चाहिए सभी मामलों पे विचार विमर्श कर के छात्र हिट में फैसला किया जाएगा। मौके पर प्रदेश उपाध्यक्ष इंदरजीत सिंह ने कहा कि ऐसे शिक्षकों पे भी करवाई होनी चाहिए जो आँख बंद कर के कॉपी चेक करते है जिस कारण छात्रों को भुगतना पड़ता है। एक सप्ताह में अगर सभी मामलों में निर्णय नही लिया गया तो एन.एस.यू.आई पूरे यूनिवर्सिटी को बंद करेगी एवं प्रदर्शन करेगी। छात्र हित मे जब तक निर्णय नही आता NSUI आंदोलन करते रहेगी। मौके पर इंदरजीत सिंह, प्रणव राज, अमन ,आकाश, सूरज, गुलशन, रीना, शाइना, ममता, करिश्मा एवं छात्र छात्राएं मौजूद थी।