ओड़िया भाषा भाषियों ने समाहरणालय परिसर पर किया एक दिवसीय धरना प्रदर्शन

राज्यपाल के नाम उपायुक्त को सौंपा गया 18 सूत्री मांग पत्र

सरायकेला से भाग्य सागर सिंह की रिपोर्ट

सरायकेला : समाहरणालय परिसर पर ओड़िया भाषा भाषी लोगों द्वारा मंगलवार को एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया गया तथा कार्यक्रम पश्चात ओड़िया भाषा के संरक्षण एवं विकास की मांग करते हुए राज्यपाल के नाम उपायुक्त को 18 सूत्री मांग पत्र सौंपा गया। धरना प्रदर्शन कार्यक्रम में मुख्य अतिथि राज्य अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व उपाध्यक्ष अशोक षाडंगी, पूर्व विधायक गुरूचरण नायक, पूर्व मंत्री बडकुंवर गागराई सहित अन्य गणमान्य रहे। अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व उपाध्यक्ष अशोक षाडंगी ने कहा वर्ष 2009 में ओडिया एवं बंगला सहित नौ जनजातीय भाषाओं को राज्य के द्वितीय राजभाषा का दर्जा दिया गया था।लेकिन आज तक ओडिया भाषी जनता को वो हक नहीं मिल पा रहा है। ओड़िया भाषी बच्चे अपने मौलिक अधिकार मातृभाषा में पढ़ाई करने से भी वंचित हो रहे हैं। सरकारी स्तर पर ओडिया भाषा की लगातार उपेक्षा की जा रही है। उन्होंने कहा भाषा संस्कृति को लेकर समाज का यह शुरुआतीआंदोलन है। आगे प्रमंडल के अन्य दो जिला मुख्यालय पश्चिम सिंहभूम, एवं पूर्वी सिंहभूम में भी धरना प्रदर्शन कर सरकार तक अपनी आवाज हमें पहुंचानी है। अन्य वक्ताओं ने भी अपने अपने विचार रखते हुए जब तक अपनी मांग पूरी नहीं हो जाती आंदोलन के लिये तैयार रहने की अपील की। धरना प्रदर्शन पश्चात प्रतिनिधि मंडल द्वारा एक 18 सूत्री मांग पत्र राज्यपाल के नाम उपायुक्त को सौंपा गया। जिसमे मुख्य मांगें हैं अविभाजीत सिंहभूम के शहीद स्वतंत्रता सेनानियों की प्रतिमूर्ति अलग अलग स्थानों पर स्थापित करने, केएस कॉलेज सरायकेला, कॉपरेटिव कॉलेज जमशेदपुर व जेएलएन कॉलेज चक्रधरपुर में ओड़िया में स्नातकोत्तर विभाग खोलने, मॉडल महिला कॉलेज खरसावां में ओड़िया भाषी पढ़ाई के लिये नामांकन करने व घाटशिला कॉलेज में ओड़िया विभाग खोलने के साथ साथ अध्यापकों की नियुक्ति करने, केयू के विभिन्न कॉलेजों में ओड़िया अध्यापकों के खाली पदों को भरने, सिंहभूम के सभी ओड़िया बहुल क्षेत्रों के स्कूलों में ओड़िया शिक्षकों की पदस्थापना करने, बच्चों के लिये सरकारी स्तर से ओड़िया पुस्तकों की व्यवस्था करने जैसी 18 मांगें है।धरना प्रदर्शन को पूर्व मंत्री बड़कुंवर गागराई, पूर्व विधायक गुरुचरण नायक, सरायकेला नगर पंचायत अध्यक्ष मीनाक्षी पटनायक ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर नगर पंचायत उपाध्यक्ष मनोज कुमार चौधरी, उदय सिंहदेव, गणेश महली, सुशील षाड़ंगी, राजा सिंहदेव, सुदीप पटनायक, सरोज प्रधान, हरीश चंद्र आचार्य, तरुण मोहंती, दुखुराम साहू, मनोरंजन गिरी, अभिषेक आचार्य, प्रदीप कुमार जेना, कोल्हू महापात्र, परशुराम कबि, राजा ज्योतिषी, रीना दुबे, रवि सतपथी, कुबेर सारंगी, सुशील सारंगी, राजीव महापात्र समेत सरायकेला-खरसावां, पश्चिमी व पूर्वी सिंहभूम जिला के कई स्थानों से ओड़िया भाषी उपस्थित रहे।