अंतर्राष्ट्रीय रक्तदाता दिवस पर ब्लड बैंक गुमला में ब्लड कंपोनेंट सेप्रेशन इकाई का शिलान्यास कार्यक्रम संपन्न

बसंत कुमार गुप्ता

गुमला: अंतर्राष्ट्रीय रक्तदाता दिवस के अवसर पर गुमला जिलांतर्गत सदर अस्पताल परिसर में अवस्थित ब्लड बैंक परिसर में ब्लड कंपोनेंट सेप्रेशन इकाई का शिलान्यास कार्यक्रम आयोजित किया गया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री झारखंड हेमंत सोरेन के द्वारा राँची ऑड्रे हाऊस के सभागार से राज्य के छः जिलों राँची, गुमला, पलामू, धनबाद, गिरिडीह एवं पूर्वी सिंहभूम में ब्लड कंपोनेंट सेप्रेशन ईकाई का वर्चुअल शिलान्यास किया गया। इसके साथ ही मुख्यमंत्री द्वारा सर्वप्रथम वर्चुअल प्रमाण पत्रों का लोकार्पण किया गया। लोकार्पण के पश्चात् मुख्यमंत्री द्वारा झारखंड विसिष्ट कैलेंण्डर का प्रमोचन किया गया। इसके साथ ही उनके द्वारा झारखंड ऐड्स कंट्रोल सोसायटी के यूट्यूब चैनल का भी शुभारंभ किया गया।

शिलान्यास कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि रक्तदान विश्व में सबसे महान दान है। आज देशभर में मानव शरीर के कई हिस्से मशीन के भी बन चुके हैं किंतु अबतक रक्त का कोई दूसरा विकल्प नहीं है। इसलिए आज राज्य के विभिन्न छः जिलों में ब्लड कंपोनेंट सेप्रेशन ईकाई की स्थापना की जा रही है। शुरूआती चरण में छः जिलों में इसकी स्थापना की जा रही है, आगे चलकर राज्य के प्रत्येक जिलों में इस ईकाई की स्थापना सुनिश्चित की जाएगी। ताकि हर ब्लड बैंक में पर्याप्त मात्रा में खून संग्रहित किया जा सके, जिससे जिलों में खून के कमी की समस्या के कारण किसी की मृत्यु न हो। उन्होंने रक्तदाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि आपके 01 यूनिट रक्तदान करने से किसी जरूरतमंद व्यक्ति की जान बचाई जा सकती है। अतः आप अधिक से अधिक लोगों को रक्तदान करने के लिए प्रेरित एवं प्रोत्साहित करें। इसके लिए हमें ऐसे कार्यक्रमों को बढ़ावा देने की आवश्यकता है। उन्होंने रक्तदान की महत्ता को साझा करते हुए कहा कि रक्तदान एक ऐसी प्रक्रिया है जो हमारे शरीर में खून के निर्माण की अनावृत प्रक्रिया को जारी रखता है। समय-समय पर रक्तदान करने से हमारा स्वास्थ्य भी बेहतर रहता है। इसके साथ ही उन्होंने झारखंड ऐड्स कंट्रोल सोसायटी के यूट्यूब चैनल के विषय में बताया कि आज शुभारंभ किए गए यूट्यूब चैनल के माध्यम से जिलों में होने वाले रक्तदान से संबंधित गतिविधियों को ऑनलाइन देखा जा सकता है, साथ ही रक्तदान करने वाले रक्तदाता अब ऑनलाइन माध्यम से रक्तदान के उपरान्त डिजिटल प्रमाण पत्र भी प्राप्त कर सकते हैं। अंत में उन्होंने आमजनों से रक्तदान में अपनी सहभागिता प्रदान करते हुए रक्तदान करने की अपील की।

स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कार्यक्रम को संबोधिच करते हुए कहा कि रक्तदान महादान है। आज एक इंसान ही दूसरे इंसान के लिए खून उपलब्ध कराता है। राज्य के छः जिलों में ब्लड कंपोनेंट सेप्रेशन इकाई का शिलान्यास मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने आगे कहा कि खून को एक समयावधि के लिए संग्रहित किया जा सकता है, परंतु इस इकाई के माध्यम से अब रक्त को विभिन्न कंपोनेंट्स में विभाजित कर लंबे समय अंतराल के लिए संग्रहित किया जा सकेगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि प्रत्येक रक्तदाता हमारी पूंजी है। उन्होंने अधिक से अधिक रक्तदाताओं को इस महादान में सहभागी होने की अपील की।

कार्यक्रम में विधायक सी.पी सिंह ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि आज अक्सर अस्पतालों एवं ब्लड बैंकों को आपातकाल स्थिति में खून की कमी का सामना करना पड़ता है। ऐसे में मुख्यमंत्री द्वारा की गई यह पहल सराहनीय है। इसके साथ ही उन्होंने मुख्यमंत्री से राज्य के प्रत्येक जिलों में ब्लड कंपोनेंट सेप्रेशन इकाईयों के स्थापना करने की आग्रह की।

गुमला जिलांतर्गत ब्लड बैंक परिसर में आयोजित ब्लड कंपोनेंट सेप्रेशन इकाई के ऑनलाइन शिलान्यास कार्यक्रम में उपायुक्त गुमला शिशिर कुमार सिन्हा एवं सिविल सर्जन डॉ.विजया भेंगरा द्वारा ब्लड कंपोनेंट सेप्रेशन इकाई के शिलापट्ट का अनावरण किया गया। कार्यक्रम में उपायुक्त द्वारा अनिकेत कुमार, अमिताभ भारती, मनोज मिश्रा, विवेक साबू, कौशल मंत्री, राजेश सिंह, मिनहाजउद्दीन खान, नटवर अग्रवाल, सुमित साबू, अमित मंत्री, मिकेश सिंह, रविंदर सिंह, सौरभ विश्वकर्मा, रोहित खंडेलवाल,जॉली विश्वकर्मा, संजीव मलानी एवं रौशन जयसवाल को रक्तदान प्रमाण पत्र से सम्मानित किया गया।

मौके पर उपायुक्त ने मारवाड़ी युवा मंच द्वारा ब्लड बैंक में आयोजित रक्तदान शिविर का अवलोकन किया। उन्होंने रक्तदाताओं से वार्तालाप कर उन्हें अधिक से अधिक लोगों के भी रक्तदान करने के लिए प्रेरित करने की अपील की।

उपस्थिति
शिलान्यास कार्यक्रम में राँची ऑड्रे हाऊस के सभागार से स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता, अपर मुख्य सचिव अरूण कुमार सिंह, झारखंड ऐड्स कंट्रोल सोसायटी के निदेशक भुवनेश प्रताप सिंह तथा जिला मुख्यालय गुमला से उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा, सिविल सर्जन डॉ.विजया भेंगरा, अपर समाहर्त्ता सुधीर कुमार गुप्ता, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी देवेंद्रनाथ भादुड़ी, जिला सूचना एवं विज्ञान पदाधिकारी हरेंद्र सिंह, एसएमपीओ रेचल जोजोवार, डीपीएम स्वास्थ्य जया रेशमा खाखा, स्वास्थ्य विभाग के राजीव, डॉ. आनंद किशोर उराँव सहित स्वास्थ्य विभाग के कर्मीगण व अन्य उपस्थित थे।