संस्था के आग्रह पर पेशकार ने रक्तदान पर बचाई गर्भवती महिला की जान

पाकुड़: व्यवहार न्यायालय पाकुड़ के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी के न्यायालय में कार्यरत जीआर के पेशकार संजय कुमार सुमन ने रक्तदान पर महिला की जान बचाई है। संस्था के अध्यक्ष रंजीत कुमार चौबे ने कहा कि सीएस कार्यालय के दीपक कुमार की पत्नी गर्भवती थी। उसके पति के शरीर मे रक्त काफी कम था। अगर समय पर रक्त नही उपलब्ध होने पर उसकी जान पर खतरा था। दीपक ने रक्त दान के लिए संस्था से सहयोग मांगा था। संस्था के आग्रह पर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी के न्यायालय में कार्यरत जीआर के पेशकार संजय कुमार सुमन ने गभर्वती महिला को रक्तदान किया। रक्त मिलने के बाद महिला अभी स्वस्थ्य है। महिला को पुत्री हुए है। रक्त उपलब्ध होने के बाद दीपक ने संस्था को धन्यवाद दिया है। मौके पर संस्था के सदस्य अजय भगत ,अजय यादव, राजेश यादव, गौतम कुमार, मंटू शर्मा उपस्थित थे।