एक-दिवसीय महा-रक्तदान शिविर का किया गया आयोजन

रामगोपाल जेना
चाईबासाः रविवार को सदर अस्पताल,चाईबासा में पश्चिमी सिंहभूम में लगातार सक्रिय सामाजिक संस्था कोल्हान नितिर तुरतुंग व स्थानीय सहयोगी सामाजिक संगठनों जिनमें क्रमशः मानकी मुंडा संघ,ऑल इंडिया हो बैंकर्स वेलफेयर सोसायटी,ऑल कोल्हान आदिवासी शिक्षक समिति ,रेया उम्बुल महिला समूह, आदिवासी यंगस्टार्स यूनिटी कोल्हान,कोल्हान बीती आकड़ा के सहयोग से विश्व आदिवासी दिवस 2021 के उपलक्ष्य में एक दिवसीय महा रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया।
कार्यक्रम की शुरुआत कुमारी जिव कुंटिया,सचिव-डालसा के द्वारा झारखण्ड के महानायक,भगवान बिरसा मुंडा की तस्वीर पर माल्यापर्ण के साथ किया गया।तत्पश्चात क्रमशः डांगुर कोडा़ह,प्रखण्ड विकास पदाधिकारी,राजनगर,गणेश पाट पिंगुवा,केन्द्रीय अध्यक्ष,मानकी मुंडा संघ,कृष्णा देवगम,विमल किशोर बोयपाई,ऑल कोल्हान आदिवासी शिक्षक समिति,विद्या सागर लागुरी, सचिव कोल्हान बिति आकड़ा,सुनीता सोय,रेया उम्बुल महिला समूह,रेयांस सामड,आदिवासी यंगस्टारर्स यूनिटी,प्रकाश लागुरी,अध्यक्ष,कोल्हान नितिर तुरतुंग आदि नें बारी-बारी से माल्यापर्ण किया।
शिविर के पहले रक्तदाता मनमोहन सिंह कुंटिया बने।शिविर में कुल 95 यूनिट रक्त का संग्रह किया गया।सभी रक्तदाताओं को संस्था के द्वारा प्रशस्ति पत्र व सजीत तिरिया द्वारा प्रायोजित स्मृति चिन्ह के रुप में एक-एक सायोब-सोसो,मेरले तथा सारजोम का पौधा देकर सम्मानित किया गाया।
शिविर में सभी रक्त दाताओं के लिए चाय-नाश्ता तथा दोपहर के खाने का इंतजाम भी किया गया था।
कार्यक्रम को सफल बनाने में मुख्य रूप से राकेश जोंको,चिंता दास, माटुल, सिंगराय बोदरा, मार्स मैनुएल बोदरा, अंजन सामाड, संजू बिरुआ, बुधन बानरा,इरशाद अली, पोरेश बिरूआ, रमेश बारी, प्रेम सिंह डांगिल, नमलेन पूर्ति बनमाली , बादल,राहुल, हरीश पूर्ति,संजना पिंगुआ,सरीना सुंडी, सरस्वती देवगम, हरिचरण खंडाइत,अमन,गणेश बिरुवा आदि का सराहनीय योगदान रहा।
मौके पर साधुचरण देवगम,बीडीओ,डुमरिया हो महासभा आदिवासी समाज के बबलू सुन्डी,गब्बर सिंह हेम्ब्रम, डिजिटल लाइब्रेरी ग्रुप के संजय कच्छप,ओलंपियन मंगल सिंह चांपिया आदि ने रक्तदाताओं को प्रोत्साहित करने हेतु उपस्थित थे।