मजदूरों के हकमारी के खिलाफ गुमला में चलेगा ऑपरेशन फर्जीवाड़ा 

गुमला:  झारखंड नवनिर्माण दल मजदूर यूनियन जिला स्तर की ऑनलाइन बैठक अनुमंडल के प्रभारियों को लेकर मजदूर यूनियन के जिला प्रभारी शंकर उरांव की अध्यक्षता में संपन्न हुई । बैठक में मुख्य रूप से उपस्थित झारखंड नवनिर्माण दल के संयोजक विजय सिंह ने कहा कि कोरोना काल में मजदूर बेरोजगारी व भूखमरी का शिकार हो रहे हैं । गांव के मजदूरों को काम देने की सरकारी दवा झूठी है । मनरेगा की योजनाओं के नाम पर फर्जी मस्टररॉल बनाकर इस कोरोना काल में भी मजदूरों का हक मारा जा रहा है । मनरेगा के योजनाओं में मची लूट व खानापूर्ति तथा 50 फ़ीसदी फर्जीवाड़ा का दावा करते हुए जांच की मांग सरकार से श्री सिंह ने किया है । जिसे बर्दाश्त नहीं करने की भी बात कही और सरकार व प्रशासन को जमीनी हकीकत से अवगत कराते हुए श्री सिंह ने गुमला में मजदूरों को एकजुट कर मजदूरों को न्याय दिलाने के लिए ऑपरेशन फर्जीवाड़ा चलाने की भी घोषणा की तथा मजदूर नेताओं से ऑपरेशन फर्जीवाड़ा चलाने की पुख्ता तैयारी करने की अपील की है । बैठक में मनरेगा मजदूरों को राज्य सरकार द्वारा घोषित न्यूनतम मजदूरी देने , वर्ष 2020 – 21 में मनरेगा द्वारा मजदूरों को दिया गया काम को सार्वजनिक करते हुए जिले के पंचायत भवनों में ग्राम वार सूची सटवाने , मजदूरों को काम समय पर मजदूरी भुगतान जैसे सवालों को लेकर गुमला डीसी को व्हाट्सएप के द्वारा 12 मई 2021 को मांगपत्र सौंपने तथा 15 मई से 15 जून 2021 तक मजदूरों के शोषण के खिलाफ ऑपरेशन फर्जीवाड़ा चलाने के अलावा कई निर्णय मजदूर हित में लिए गए हैं ।
ऑपरेशन फर्जीवाड़ा के तहत जिले के प्रत्येक प्रखंड के एक – एक गांवों में सर्वप्रथम ऑपरेशन फर्जीवाड़ा अभियान के तहत मनरेगा मजदूरों के नाम पर फर्जी मस्टररॉल बनाकर मजदूरों के हक मारी व स्थिति को उजागर किया जाएगा । मजदूरों के सवाल पर हुई इस ऑनलाइन बैठक में मजदूर यूनियन के जिला प्रभारी शंकर उराँव , चैनपुर अनुमंडल के प्रभारी फबयानुस सारस , भूषण सिंह , बसिया अनुमंडल के प्रभारी पूरन सिंह , गुमला अनुमंडल के प्रभारी रामप्यार तुरी मुख्य रूप से भाग लिए ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *