प्रथम झारखंड राज्य स्लिंगशॉट सिलेक्शन ट्रायल गुलेल खेलो प्रतियोगिता 2021 का आयोजन

जामताड़ा से राज किशोर सिंह की रिपोर्ट
जामताड़ा:  स्लिंगशॉट एसोसिएशन ऑफ इंडिया के निर्देशानुसार स्लिंगशॉट एसोसिएशन ऑफ झारखंड के तत्वधान में 18 अक्टूबर को जामताड़ा के ऐतिहासिक गांधी मैदान में प्रथम बार स्लिंगशॉट यानी गुलेल खेल का ओपन सिलेक्शन ट्रायल का आयोजन रखा गया है। इस सिलेक्शन प्रतियोगिता को सफल आयोजन को लेकर जामताड़ा जिला मुख्यालय में स्लिंगशॉट एसोसिएशन ऑफ झारखंड के पदाधिकारियों एवं सदस्य ने बैठक का आयोजन कर कार्यक्रम से संबंधित विचार विमर्श किए। इस बात की जानकारी स्लिंगशॉट एसोसिएशन ऑफ झारखंड के महासचिव दीपक दुबे ने बताया कि आगामी 30 अक्टूबर को महाराष्ट्र के शिर्डी साईं में आयोजित 6 वीं राष्ट्रीय स्लिंगशॉट प्रतियोगिता में प्रथम बार झारखंड राज्य टीम प्रतिनिधित्व करेंगे इसे लेकर आगामी 18 अक्टूबर को एक राज्य स्तरीय टीम बनाने को लेकर ओपन सिलेक्शन प्रतियोगिता का आयोजन जिला मुख्यालय स्थित गांधी मैदान में आयोजित किया गया है । जिसमें कोई भी गुलेल खेल के प्रेमी एवं खिलाड़ी इस प्रतियोगिता में भाग ले सकते हैं। इसी चयन प्रतियोगिता के आधार पर चयनित खिलाड़ी आगामी राष्ट्रीय प्रतियोगिता में झारखंड राज्य को प्रतिनिधित्व करेंगे। श्री दुबे ने बताया कि गत 6 महीना पहले ही मुझे झारखंड राज्य के महासचिव का दायित्व मिला है लेकिन कोविड-19 कोरोना वायरस कारण राज्य कमेटी का गठन करना संभव नहीं हो पाया है और जब तक राज्य कमेटी का गठन ना हो जाए तब तक जिला स्तरीय कमेटी का भी गठन होना संभव नहीं है । इस बार राष्ट्रीय प्रतियोगिता 2021 में खिलाड़ियों की भेजने की जिम्मेदारी है इसलिए हमने ओपन चयन प्रतियोगिता का आयोजन अपने गृह जिला में करा रहे हैं । आने वाले समय में इस खेल को बढ़ावा देने के लिए झारखंड के अधिकतर जिले में इसकी कमेटी बनेगी और इस खेल का व्यापक प्रचार प्रसार किया जाएगा यह खेल कोई नया नहीं है हमारे झारखंड के सुदूरवर्ती ग्रामीण एवं गांव में गुलेल चलाने का प्रचलित बहुत जोरों शोरों से है बस उन सभी को इस गुलेल के आधुनिक नाम स्लिंगशॉट खेल से जुड़ना है जिससे हमारे पशु – पक्षी के अत्याचार और हिंसात्मक कम होगा और लोग गुलेल को खेल अपनाकर राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर में अपने पहचान बनायेंगे। आज के बैठक में मुख्य रूप से नितेश सेन ,सूरज कु. पासवान, राहुल सिंह , भास्कर चांद , संजीव सेन, परिणीता सिंह, रूपम सेन, रविंद्र कु. सुमन , अरुण पंडित उपस्थित थे।