विकलांगता से मुक्त हो देश हमारा: उमेश राजगढ़िया

भारत विकास परिषद रामगढ़ शाखा द्वारा दिव्यांग आदर्श कुमार को कृत्रिम आर्टिफिशियल लिंब प्रदान करने हेतु पटना भेजा

रामगढ़: पारसोतिया रामगढ़ निवासी कुलदीप कुशवाहा के पुत्र 19 वर्षीय आदर्श कुमार को भारत विकास परिषद रामगढ़ शाखा के द्वारा कृत्रिम पैर प्रदान किया गया है। परिषद के प्रतिनिधि उसके घर पहुंचे थे। विगत दो वर्षों पहले सड़क दुर्घटना में आदर्श ने अपना दाहिना पाँव गवां दिया था। जिससे उसकी जिंदगी कठिन बन गई थी। भारत विकास परिषद रामगढ़ के सदस्य वरुण बागड़िया ने उक्त युवक का संज्ञान लेते हुए आदर्श को भारत विकास परिषद की पटना स्थित भारत विकास एवं संजय आनंद विकलांग अस्पताल भेजने की व्यवस्था की है। साथ ही आनंद विकलांग हॉस्पिटल में आदर्श के इलाज एवं रहने-खाने की निःशुल्क व्यस्था की गई है। आदर्श कुमार एक मेधावी छात्र है, जो वर्तमान में जमशेदपुर एनआईटी में पढ़ाई कर रहा है। पिता कुलदीप कुशवाहा सब्ज़ी बेचकर अपने परिवार का निर्वहन करते है।युवक को पटना रवाना करने के मौके पर शाखा अध्यक्ष उमेश राजगढ़िया ने कहा कि परिषद अपने सामाजिक गतिविधियों को लगातार निभा रहा है। हमारी थोड़ी सी कोशिश से किसी की जिंदगी बदल सकती है। इसी सोच के साथ परिषद आगे बढ़ रहा है। देश को विकलांगता मुक्त बनाने की हमारी कोशिश जारी रहेगी। श्री राजगढ़िया ने यह भी कहा कि कोरोना महामारी के दौरान जरूरतमंदों को एम्बुलेंस, ऑक्सीजन समेत अन्य सुविधा प्रदान कर परिषद ने अपनी समाज सेवा के इरादे को और पुख्ता करने का काम किया। इस अवसर पर परिषद के निवर्तमान अध्यक्ष गोविंद मेवाड़, वरुण बगड़िया, विकास अग्रवाल, अमित साहू, मनोज मोदी उपस्थित थे।