पर्यावरण की सुरक्षा करना हम सभी की जिम्मेदारी: उपायुक्त

गोड्डा से अभय पलिवार की रिपोर्ट

गोड्डा : उपायुक्त किरण पासी ने कहा है कि पर्यावरण संरक्षण के लिए सामूहिक रूप से कार्य करने एवं संकल्प लेने की जरूरत है।
विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर उपायुक्त श्रीमती पासी के ने जिलेवासियों को शुभकामनाएं देते हुए आग्रह किया है कि आज के दिन अपने-अपने क्षेत्रों में एक एक पेड़ अवश्य लगाए। वर्तमान में हम सबों को मिलकर पर्यावरण के संरक्षण, संवर्धन और विकास का संकल्प लेना चाहिए।
श्रीमती पासी के अनुसार, विश्व में लगातार बढ़ते प्रदूषण और बढ़ती ग्लोबल वार्मिंग के चलते विश्व पर्यावरण दिवस को शुरू किया गया था। इसे सही मायनों में तभी बल मिलेगा जब हम सभी अपने पर्यावरण के संरक्षण के लिए सामुहिक रूप से जुड़कर प्रयास करेंगे।
वर्तमान में हमें धरातल पर अधिक से अधिक पेड़-पौधे लगाने की जरूरत है, ताकि हमारा पर्यावरण साफ एवं स्वच्छ रह सके। हमारे जीवन के लिए पेड़-पौधे का बड़ा ही महत्व है, जो हमारे लिए ऑक्सीजन प्रदान करते हैं एवं कार्बन डाइऑक्साइड को ग्रहण करते हैं। उपायुक्त ने इस बात पर जोर दिया है कि लोग पर्यावरण के प्रति अपनी जिम्मेदारी को समझें और पेड़ों पौधे को बचाने के लिए अपनी-अपनी भूमिका निभाएं। पर्यावरण की सुरक्षा करना हम सभी का कर्तव्य है। इसके महत्व को समझते हुए सभी लोगों को पर्यावरण की रक्षा के प्रति अपने कर्तव्य का निर्वहन करना चाहिए। हम सभी को चाहिए कि आने वाली पीढ़ी को बेहतर वातावरण दें। इसके लिए पौध रोपण करना एवं पेड़ों को बचाना आवश्यक है। यह तभी संभव होगा, जब लोग जागरूक होंगे।
सभी लोगों के सामूहिक प्रयास से ही पर्यावरण को प्रदूषण से बचाया जा सकता है।
उपायुक्त ने कहा कि पेयजल एवं शौचालय का सीधा जुड़ाव पर्यावरण से है। इसलिए लोगों को चाहिए कि खुले में शौच न जाकर, अपने घरों में बने शौचालय का उपयोग करें। पर्यावरण की रक्षा करने के लिए जिला प्रशासन के द्वारा आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं। स्थानीय स्तर पर हम सभी को संवेदनशील होकर कार्य करने की आवश्यकता है। सबकी सहभागिता से ही पर्यावरण को प्रदूषण से बचाया जा सकता है। छोटे-छोटे प्रयास करने से भी बदलाव आयेगा। इसके लिए गंभीर होकर काम करने की जरूरत है।
उपायुक्त के द्वारा बताया गया कि अपने आस-पास के लोगों को जागरूक करते हुए पेड़-पौधे लगाकर वातावरण हरा-भरा रखे। साथ हीं साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देते हुए प्लास्टिक का प्रयोग कम से कम करें और अधिक से अधिक पौधे लगाएं ताकि पर्यावरण को सुरक्षित रख सकें।