पीएलएफआई सुप्रीमो दिनेश गोप दस्ते का 2 हार्डकोर सदस्य गिरफ्तार

व्यवसायियों से करोड़ो की लेवी मांगना और सुप्रीमो तक पहुंचाना काम था
खूंटी: पीएलएफआई सुप्रीमो दिनेश गोप दस्ते का लेवी वसूलने वाले 2 दस्ता सदस्य को खूंटी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। सुप्रीमो दिनेश गोप के लिए व्यवसाइयों से व्हाट्सएप के जरिये धमकी भरा फोन कर लेवी मांगना और लेवी के साथ साथ जरूरी सामानों की डिलीवरी करना मुख्य काम था। खूंटी पुलिस ने प्रतिबंधित नक्सली संगठन पीएलएफआई के सक्रिय सदस्य संजय गोप उर्फ दिनेश और देवेंद्र कुमार सिंह को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार नक्सली सदस्यों से पुलिस ने एक देशी कट्टा, 2 कारतूस, एक बाइक, लेवी के 26 हजार नगद और एक बाइक बरामद किया।
खूंटी एसपी आशुतोष शेखर के निर्देशानुसार तोरपा डीएसपी ओपी तिवारी के नेतृत्व में चार थाना क्षेत्र की पुलिस टीम ने पीएलएफआई के लिए व्हाट्सएप्प के माध्यम से लेवी वसूली करने वाले और पीएलएफआई के लिए आवश्यक सामग्री सप्लायर हार्डकोर 2 दस्ता सदस्यों को अनुसंधान के क्रम में मिले अहम सुराग से धर दबोचा है।
बता दें कि खूंटी जिले के तोरपा, aतपकरा, रनियां और जरियागढ़ थाना पुलिस की संयुक्त टीम ने 27 सितंबर को गुदड़ी थाना के तुमरुंग जंगल मे चली नक्सली मुठभेड़ के बाद अनुसंधान के क्रम में मिले अहम सुराग के आधार पर कार्रवाई करते हुए तोरपा तपकरा के मिटकोरा, टाटी उकड़ीमाडी एवं धोबीसोसो में छापामारी अभियान चलाया। छापामारी अभियान के दरम्यान हथियार के साथ दो संदिग्ध व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार संजय गोप उर्फ दिनेश गोप और देवेंद्र कुमार सिंह के स्वीकारोक्ति बयान से पता चला कि ये लोग तीन चार सहयोगियों के साथ पीएलएफआई के लिए व्हाट्सएप के माध्यम से लेवी मांगने, वसूली करने और पार्टी को जरूरी सामान सप्लाई करने का काम करते थे। पिछले दिनों पीएलएफआई के लिए रांची से तीन करोड़ रुपये, मुरहु पेट्रोल पंप से 5 लाख रुपये की मांग समेत कई मामलों में शामिल थे।
बता दें कि 27 सितंबर को चाईबासा जिला के गुदड़ी थाना अंतर्गत बुढ़-तुमरुंग जंगल में पीएलएफआई सुप्रीमो दिनेश गोप के दस्ता सदस्यों के साथ पुलिस की मुठभेड़ चली थी। मुठभेड़ के बाद अनुसंधान के क्रम में पुलिस को जानकारी मिली कि प्रतिबंधित नक्सली संगठन पीएलएफआई के लिए कुछ लोग सक्रिय रूप से लेवि मांगने और लेवी वसूलने के धंधे में लिप्त हैं।
खूंटी एसपी आशुतोष शेखर ने प्रेस रिलीज जारी कर बताया कि संजय गोप उर्फ दिनेश गोप का रनिया थाना में तीन मामला दर्ज है। साथ ही देवेंद्र सिंह का कर्रा थाना में एक मामला दर्ज है।  तोरपा डीएसपी ओमप्रकाश तिवारी की अगुवाई में चली छापामारी में तोरपा अंचल पुलिस निरीक्षक दिग्विजय सिंह, तोरपा थाना प्रभारी अरविंद कुमार, जरियागढ़ थाना प्रभारी मनीष कुमार, तपकरा थाना प्रभारी सत्यजीत कुमार, तपकरा थाना पुलिस अवर निरीक्षक रंजीत किशोर, जरियागढ़ थाना उत्तम कुमार, तोरपा थाना पुअनि संदीप बनर्जी,पुअनि अकबर अहमद खान, रनिया थाना पुअनि पंकज कुमार, पुअनि जितेंद्र कुमार यादव और तोरपा क्यू.ए.टी. और तोरपा थाना के सशस्त्र बल शामिल थे।