थाना प्रभारी व शैलेन्द्र सिंह ने संयुक्त रूप से किया अजय एकेडमिक कोचिंग संस्थान का फीता काटकर उद्घाटन

पांकी से लौकेश सिंह की रिपोर्ट

पांकी: वीणा धनुवंशी ऑर्केट,गजबोर,पांकी में अजय एकेडमी कोचिंग संस्थान का हुवा उद्घाटन कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पांकी थाना प्रभारी अमित कुमार सोनी व विशिष्ट अतिथि प्रखंड के युवा समाजसेवी शैलेंद्र कुमार सिंह के द्वारा संयुक्त रूप से फीता काटकर किया ।उद्घाटन कार्यक्रम के पूर्व में कोचिंग के संचालक अजय कुमार सिंह के द्वारा अतिथियों के आने के पश्चात अतिथियों को माला पहनाकर सम्मानित किया गया।मौके पर मुख्य अतिथि थाना प्रभारी अमित कुमार सोनी ने संबोधित करते हुए कोचिंग संचालक अजय कुमार सिंह को हार्दिक बधाई देते हुए कहा कि इस तरह की कोचिंग संस्थान को खोलना बहुत अच्छा है।साथ ही उन्होंने कहा कि विद्या एक ऐसा धन है जिसे ना तो कोई चुरा सकता है और ना ही कोई छीन सकता है, शिक्षा हम सभी के उज्जवल भविष्य के लिए आवश्यक उपकरण है,शिक्षा का उच्च स्तर लोगों को सामाजिक और पारंपरिक आदर व अलग पहचान बनाने में मदद करता है।विशिष्ट अतिथि शैलेन्द्र कुमार सिंह ने कोचिंग के संचालक अजय कुमार सिंह को अपने माध्यम से तरफ से गिफ्ट के तौर पर टोन दीवार घड़ी देकर सम्मानित किया।अजय कुमार सिंह के द्वारा कोचिंग संस्थान खुलने व खुब सहारना करते शैलेन्द्र सिंह ने कहा कि नजदीकी बसें गाव के बच्चे लोगों के लिए खुशी का विषय है।शैलेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि आज के समाज में शिक्षा का महत्व काफी बढ़ चुकी हैं।शिक्षा के उपयोग तो अनेक है,परंतु उसे नई दिशा देने की आवश्यकता है।शिक्षा इस प्रकार होनी चाहिए कि एक व्यक्ति अपने परिवेश से परिचित हो सके।कहा जाता है कि जीवन में सफलता प्राप्त करने व कुछ अलग करने के लिए शिक्षा सभी के लिए एक बहुत महत्वपूर्ण साधन है।प्रत्येक व्यक्ति चाहता है कि वह एक साक्षरता हो प्रशिक्षित हो इसलिए आज के समय में हमारे जीवन में शिक्षा जरूरी है।शिक्षा स्त्री और पुरुषों दोनों के लिए सम्मान रुप से आवश्यक है, क्योंकि स्वास्थ्य और शिक्षित समाज का निमार्ण दोनों द्वारा मिलकर ही किया जाता है।मालूम कि उज्जवल भविष्य के लिए आवश्यक यंत्र होने के साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों से लेकर देश के विकास और प्रगति में भी बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं।इस तरह,उपयुक्त शिक्षा दोंनो के उज्जवल भविष्य का निमार्ण करके, इसे सफलता और प्रगति के रास्ते की ओर ले जाते हैं।शिक्षा जहां तक संभव होता है, उस सीमा तक लोगों बेहतर और सज्जन बनाने का कार्य करती हैं,इस प्रकार शैलेन्द्र कुमार सिंह ने शिक्षा की ओर अग्रशित करते हुए संक्षेप में बताया।मौके पर अजय कुमार सिंह(कोचिंग संचालक),अमित कुमार सोनी,अनिरुद्ध श्रीवास्तव,राजिंद्र सिंह,अनित्त सिंह (शिक्षक),नरेंद्र सिंह (शिक्षक)फारूक अहमद, कमलेश कुमार (शिक्षक) प्रो. जमशेद आलम,रामकृत सिंह (गुरु जी)तालकेश्वर सिंह (शिक्षक),बच्चू मौवार साहब, विजय सिंह (मंत्री) नरेंद्र सिंह, मनोज सिंह, उपेंद्र सिंह, कपिल सिंह (शिक्षक) पंकज कुमार सिंह, कार्तिक सिंह,शतीश सिंह,भानू सिंह, मनोज सिंह,शिव सिंह, सतेंद्र सिंह,दीपक मंडल,सुदर्शन सिंह,तुलेश्वर यादव (शिक्षक) प्रमेश्वर सिंह,नेपाल सिंह, यशवंत सिंह,योगेंद्र सिंह,बबलू कुमार सिंह सहित अनेकों लोग कार्यक्रम में उपस्थित थे।