जनसंख्या समाधान फाउंडेशन सरायकेला इकाई द्वारा मनाया गया प्रतिज्ञा दिवस

सरायकेला से भाग्य सागर सिंह की रिपोर्ट

सरायकेला। जनसंख्या समाधान फाउंडेशन सरायकेला इकाई की ओर से कार्यकारी अध्यक्ष पिंकी मोदक की आवास में जनसंख्या समाधान फाउंडेशन प्रदेश महासचिव मनोज कुमार चौधरी के नेतृत्व में प्रतिज्ञा दिवस मनाया गया। इस कार्यक्रम में जनसंख्या समाधान फाउंडेशन इकाई सरायकेला के सभी सदस्यों ने शपथ लिया कि भारत में जनसंख्या नियंत्रण कानून जल्द से जल्द लागू करने के लिए समाज को जागरूक करेंगे। जब तक देश में जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू नहीं होगा तब तक निरन्तर प्रयास करते रहेंगें। प्रतिज्ञा दीपक दिवस पर उपस्थित जनसंख्या समाधान फाउंडेशन सरायकेला के अध्यक्ष सह प्रदेश महासचिव मनोज कुमार चौधरी ने कहा जनसंख्या विस्फोट एक बड़ी समस्या है भारत में यह विकराल रूप ले रही है। इसी कारण प्राकृतिक संसाधनों का दोहन हो रहा है एवं बेरोजगारी बढ़ रही है। समाज के सभी वर्ग को इस पर विचार कर काम करना चाहिए। देश में जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू नहीं किया गया तो कुछ वर्षों के बाद देश में गृह युद्ध जैसी स्थिति पैदा हो जाएगी। देश में जनसंख्या नियंत्रण कानून शक्ति से लागू करने की हम मांग करते हैं। दो बच्चे से अधिक अगर हो तो उसे सरकारी सुविधा से वंचित किया जाय और वोटिंग के अधिकार भी छीना जाए, चौथे बच्चे के जन्म पर सजा का प्रवधान हो। जनसंख्या समाधान के लिए समाज को पहल करनी होगी और समाज के सभी वर्गों को मिलकर ही जनसंख्या पर नियंत्रण पाया सकता है। जिलाध्यक्ष विवेकानंद भारती ने कहा की जनसंख्या हर समस्या की जड़ है अगर देश में जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू कर दिया जाए तो देश की आधी समस्या स्वतः समाप्त हो जाएगी। जिस रफ्तार से देश में जनसंख्या बढ़ रही है से कहीं ना कहीं युवा इसका शिकार हो रहे हैं, बेरोजगारी बढ़ रही है,
भारत में बढ़ती आबादी गंभीर चिंता का विषय है। हालांकि सरकार ने इस पर नियंत्रण रखने के लिए कुछ कदम उठाए हैं लेकिन ये नियंत्रण पर्याप्त प्रभावी नहीं हैं। जनसंख्या रोकने के लिये जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू किये जाने की आवश्यकता है। तेल, लकड़ी, कोयले जैसे संसाधनों की अच्छी उपलब्धता वाले क्षेत्रों में आबादी घनी होती है जहाँ इन बुनियादी संसाधनों की कमी होती है वे क्षेत्र कम आबादी वाले हैं, बढ़ती जनसंख्या के कारण प्रकृति के संसाधनों का दोहन हो रहा है, प्रकृति को बचाना है, तो जनसंख्या पर रोक लगाना है। इस कार्यक्रम में कार्यकारी अध्यक्ष पिंकी मोदक जिला मंत्री रुपा पती सहित काफी संख्या में फाउंडेशन के पदाधिकारी एवं सदस्य उपस्थित थे।