प्रकृति, परंपरा और संस्कृति से जुड़ा महापर्व है सोहराय: डॉक्टर मिंज

– कुलपति का आदिवासी परंपरा अनुसार हुआ स्वागत

विजय कुमार की रिपोर्ट

मेहरमा : मेहरमा प्रखंड स्थित एसआरटी कॉलेज, धमडी़ में संताली साहित्य की ओर से शनिवार को आयोजित सोहराय पर्व के मौके पर पहुंची सिद्धू कानू मुर्मू विश्वविद्यालय, दुमका की कुलपति डॉ सोना झरिया मिंज का आदिवासी रीति-रिवाजों के तहत स्वागत किया गया। कॉलेज के छात्र छात्राओं के साथ मिलकर कुलपति डॉक्टर मिंज भी मांदर की थाप पर जमकर थिरकी । इतना ही नहीं सोहराय के मौके पर भूदाता की पुत्री नैना, एसआरटी कॉलेज के प्राचार्य डॉ वीरेंद्र कुमार मिश्रा, शशांक शेखर सिन्हा, टबलू सिंह, आत्मा नाथ पांडे, गुलजारी समेत कई गण्यमान्य अतिथि व शिक्षाविद् छात्र-छात्राओं के संग सोहराय के नृत्य-संगीत पर जमकर झूमे। मौके पर वीसी ने कहा कि सोहराय जाति, समुदाय व धर्म से इतर प्रकृति प्रेम का महापर्व है। ऐसे में जो भी प्रकृति प्रेमी हैं, वह सोहरायपर्व मनाकर आनंदित हो रहे हैं। कहा कि सभी समाज में पर्व को मनाने की भले ही अलग-अलग परंपरा हो, लेकिन सभी का एकमात्र उद्देश्य है ।सिर्फ त्योहार ही नहीं बल्कि जीवन का दर्शन भी है।
कुलपति डॉ मिंज ने कहा कि सोहराय हमारी संस्कृति, परंपरा और प्रकृति से जुड़ा महापर्व है जिससे हम निरंतर सीखते हैं। प्रकृति एक ऐसा शिक्षक है, जिससे हम लगातार सीखते और प्रेरणा लेते हैं। उन्होंने कहा कि शोधार्थियों को अपने आसपास में हो रहे बदलाव और अपनी संस्कृति को फोकस करके शोध करना चाहिए। हमें शोध में इन चीजों और ऐसे कई पहलुओं पर ध्यान देने की जरूरत है।
कॉलेज की स्थिति को देखकर वीसी काफी चिंतित हुईं। उन्होंने कहा कि पढ़ने वाले बच्चों को जो व्यवस्था मिलनी चाहिए वह व्यवस्था सच में नहीं है। मैं इस पर विशेष ध्यान दूंगी साथ ही कॉलेज में जो भी व्यवस्था की कमी है,उससे सरकार को अवगत कराएंगे। मौके पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के सौरभ कुमार झा, सनी कुमार, गौतम कुमार, रोशन कुमार, अंकिता कुमारी, सोना कुमारी समेत कई छात्र-छात्राओं ने अहम भूमिका निभाई।

अभाविप ने सौंपा ज्ञापन

इधर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने वीसी से मिलकर कॉलेज के कई समस्याओं से अवगत कराया। साथ ही उन्होंने एक ज्ञापन देकर कॉलेज में पीजी की पढ़ाई शुरू कराने की मांग की। साथ ही उन्होंने कॉलेज की व्यवस्था में सुधार कराने की भी बात कही। इस पर वीसी ने आश्वासन देते हुए कहा कि जल्द ही सभी समस्याओं का समाधान करा दिया जाएगा।