हर जिला के अध्यक्ष होंगे उर्दू शिक्षक संघ केंद्रीय कमेटी के पदेन सदस्य

रांची : झारखंड राज्य उर्दू शिक्षक संघ केंद्रीय कमेटी की एक वर्चुअल मीटिंग हुई. जिसकी अध्यक्षता वरीय उपाध्यक्ष नाजिम अशरफ और संचालन महासचिव अमीन अहमद ने किया.
केंद्रीय कमेटी की मीटिंग में तय किया गया कि राज्य के सभी जिलों के जिला अध्यक्ष केंद्रीय कमेटी के पदेन सदस्य होंगे. ज़िला अध्यक्ष द्वारा नामित एक सदस्य को केंद्रीय कमेटी वॉट्स ऐप ग्रुप में शामिल किया जाएगा. बैठक में तय हुआ कि जिन जिलों में अब तक कमेटी का गठन अथवा विस्तार नहीं हो पाया है, वहां तेजी लाकर गठन को अंतिम रुप दिया जाएगा. एक अहम निर्णय में प्रस्ताव लिया गया कि राज्य भर के उर्दू स्कूलों में शुक्रवार को साप्ताहिक अवकाश के दिन भी झारखंड शिक्षा परियोजना द्वारा ऑनलाइन शिक्षा का कंटेंट भेज दिया जाता है. इसलिए झारखंड शिक्षा परियोजना परिषद के निदेशक से मिलकर आग्रह किया जाएगा कि अवकाश के दिन में उर्दू स्कूलों को कंटेंट नहीं भेजा जाए. शुक्रवार के बदले रविवार को कंटेंट भेजा जाए अथवा यह स्वीकृति प्रदान की जाए कि शुक्रवार को भेजे गए कंटेंट को उर्दू विद्यालय सुरक्षित रखे और रविवार को बच्चों को भेजें. झारखंड शिक्षा परियोजना परिषद से मांग की जाएगी कि शुक्रवार के साप्ताहिक अवकाश को ध्यान में रखकर ही भविष्य में कार्यक्रम तय किए जाए.
अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी और जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के नामांकन जांच परीक्षा का केंद्र झारखंड में बनाने के लिए झारखंड के राज्यपाल, मुख्यमंत्री, शिक्षा मंत्री, शिक्षा सचिव से मिलने तथा दोनों विश्वविद्यालय से पत्राचार करने का निर्णय लिया गया.
वर्चुअल मीटिंग में रांची से मोहम्मद फखरुद्दीन, अमीन अहमद, राकीम अहसन, मकसूद जफर हादी, नाजिम अशरफ, चांडिल से गुलाम अहमद, गुमला से मोहम्मद सरवर आलम, शहजाद अनवर, चतरा से नसीमुद्दीन मोहम्मद, सरायकेला से अब्दुल माजिद खान, मोहम्मद शमीम अंसारी, जमशेदपुर से साबिर अहमद, लोहरदगा से इनामुल हक, बोकारो से मुफीद आलम, पश्चिमी सिंहभूम से इरशाद अली एवं शीन अनवर आदि शामिल हुए.