बरही उपकारा केंद्र में बंदियों का आना हुआ शुरू

बरही से बिपिन बिहारी पाण्डेय

बरही : बरही के चकुराटांड में बराकर नदी के तलहटी पर करीब 9 एकड़ के क्षेत्रफल में बने बरही उपकारा केंद्र में एक सितंबर से बंदियों का आना शुरू हो गया है। शुक्रवार तक 16 बंदियों को बरही उपकारा केंद्र लाया गया था। प्रभारी सहायक कारापाल मो सोनू से बात करने पर बताया कि एक सितंबर से बरही उपकारा केंद्र में बंदियों का आना शुरू हो गया है, हमारी तैयारी पूरी हो गई है। उच्च पदाधिकारियों के दिशा निर्देश के अनुसार और भी बंदियों को बहुत जल्द लाया जाएग।वहीं शुक्रवार को भी पांच बंदियों को लाया गया है, जो बंदी आए है वह चतरा, हजारीबाग, कोडरमा, रांची आदि जिलों के हैं। वहीं उन्होंने बताया कि हमारे यहां 325 बंदियों की रहने की व्यवस्था है, जिसमें 300 पुरुष व 25 महिला बंदियों के लिए है। वही हवलदार भीम प्रसाद यादव ने बताया कि सुरक्षा एवं कैदियों की देखभाल के लिए जवानों की तैनाती की गई। वहीं उन्होंने कहा कि कैदियों के लिए कोई दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ेगा, खाने की व्यवस्था से लेकर मेडिकल तक की व्यवस्था पूरी कर ली गई है। बता दें कि भीम प्रकाश यादव, चंद्र भूषण सिंह, वीरेंद्र यादव, शिव शंकर कुमार यादव, सुनील राम यह सभी भूतपूर्व सैनिक है, जो जेल के मेंटेनेंस कार्यों में काफी दिनों से लगे हुए हैं। वही 20 गृह रक्षक है जिनका नेतृत्व युगल किशोर सिंह कर रहे हैं। इनका भी योगदान शुरू से अहम रहा है।