ईद-ए-मिलाद-उन-नबी पर प्रखंड भर में निकला जुलूस- ए- मोहम्मदी

कामिल की रिपोर्ट
बसंतराय : ईद-मिलादुन्नबी पर प्रखंड छेत्र के विभिन्न गांव में मंगलवार को जुलूस- ए- मोहम्मदी निकाला गया। बारिश के बावजूद रूपनी, भट्टा, कदमा, राहा सहित कई गांव में जुलूस निकाला गया, इस दौरान लोगों का उत्‍साह देखते हुए बन रहा था। उलेमाओं ने जुलूस में हिस्सा लेकर अपने-अपने अंदाज में दुनिया के आखिरी पैगम्बर हजरत मुहम्मद साहब के जीवनी पर प्रकाश डाला। भारी बारिश के बावजूद छतरी लेकर अकीदतमंदों ने आखरी पैगंबर की जीवनी को सुना।अकीदत मंदो को बताया गया की दुनिया के आखिरी पैगंबर हजरत मुहम्मद साहब ने लोगों को हमेशा इंसानियत का पाठ पढ़ाया। विश्व को शांति का पैगाम दिया है।
वहीं कई गांव में कोविड़ 19 के गाइडलाइन को लेकर इस बार एतिहासिक जुलूस- ए- मोहम्मदी नहीं निकला और लोगो के आस्था पर महामारी भारी पड़ता दिखाई दिया।
बता दें कि इस्लाम धर्म के लोग पैगंबर हजरत मोहम्मद के जन्मदिन पर ईद-ए-मिलाद-उन नबी या ईद-मिलाद के तौर पर मनाते हैं। इस्लामिक कैलेंडर के मुताबिक, ये त्योहार तीसरे महीने रबी-उल-अव्वल के 12वें दिन मनाया जाता है।
बताते चले की आज के दिन भारत सहित विश्व भर मैं अकीदतमंद बारेवाफात मना रहे है। देश के हर राजनेता से लेकर राष्ट्रपति श्री कोविंद ने ईद मिलादुन्नबी पर देश वासियों को बधाई दी और कहा आइए हम सब पैगम्‍बर मुहम्‍मद के जीवन से प्रेरणा लेकर, समाज की खुशहाली के लिए और देश में सुख शांति बनाए रखने हेतु कार्य करें।