अमित शाह मामले में राहुल गांधी को 20 दिनों की आखिरी मोहलत

रांची भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में झारखंड हाई कोर्ट ने राहुल गांधी को अपना पक्ष रखने के लिए 20 दिनों की आखिरी मोहलत दी है। अब राहुल गांधी के मामले में 16 अप्रैल को विस्‍तृत सुनवाई होगी। इस मामले में रांची की निचली अदालत ने राहुल गांधी को पेशी के लिए समन जारी किया है, जिसे उन्होंने उच्च न्यायालय में चुनौती दी है। राहुल गांधी के अधिवक्ता ने बुधवार को सुनवाई के दौरान सीनियर वकील की व्‍यस्‍तता का हवाला देते हुए कोर्ट से समय दिए जाने की मांग की। जिस पर अदालत ने उन्हें 20 दिनों का समय दे दिया। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने का मामला नवीन कुमार झा ने दर्ज कराया है। इस केस में नवीन झा के शिकायत वाद की सुनवाई करते हुए निचली अदालत ने राहुल गांधी को सशरीर पेशी के लिए समन जारी किया था। इसी आदेश को हाई कोर्ट में चुनौती दी गई है । बता दें कि झारखंड हाई कोर्ट से कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को यह आखिरी राहत मिली है। सुनवाई के क्रम में नवीन झा की ओर से सुप्रीम कोर्ट के जजमेंट का हवाला दिया गया, जिसमें निचली अदालत की कार्रवाई जारी रखने का फैसला दिया गया था। इससे पहले जस्टिस एस चंद्रशेखर की अदालत ने उनके खिलाफ निचली अदालत में चल रही कार्रवाई पर रोक लगा दी थी। तब अदालत ने इस मामले में शिकायतकर्ता नवीन कुमार झा को भी नोटिस जारी किया था। दरअसल रांची सिविल कोर्ट ने पिछले महीने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ दाखिल शिकायतवाद मामले में संज्ञान लेते हुए उन्हें हाजिर होने के लिए समन जारी किया है। राहुल गांधी की ओर से समन को चुनौती देते हुए हाई कोर्ट में याचिका दाखिल की गई है। जिसमें निचली अदालत की कार्रवाई पर रोक लगाने की मांग की गई थी।
यह है मामला
रांची के हरमू निवासी भाजयूमो नेता नवीन कुमार झा ने निचली अदालत में एक याचिका दाखिल की है। जिसमें राहुल गांधी पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर अपमानजनक टिप्पणी करने का आरोप लगाया गया है। शिकायतवाद में कहा गया है कि कांग्रेस के राष्ट्रीय महाधिवेशन में राहुल गांधी ने कहा था कि भाजपा अमित शाह जैसे हत्या के आरोपी को अध्यक्ष के रूप में स्वीकार कर सकती है, लेकिन कांग्रेस ऐसा नहीं कर सकती। शिकायतकर्ता ने कहा है कि राहुल गांधी के बयान से उन्हें गहरा आघात लगा है। यह मामला भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर अभद्र टिप्पणी करने से जुड़ा है। शिकायतकर्ता नवीन झा के वाद पर निचली अदालत ने बीजेपी के राष्टीय अध्यक्ष अमित शाह पर टिप्पणी करने के मामले में संज्ञान लेते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को समन जारी किया था।