आरडीडीई के अध्यक्षता में दी गई डिजिटल सुविधा स्किल व सुविधा रिमोट प्रोग्राम की जानकारी

रामगोपल जेना
चाईबासा: सिंहभूम क्षेत्रीय उपनिदेशक शिक्षा नारायण प्रसाद विश्वास के अध्यक्षता तथा पश्चिमी सिंहभूम जिला शिक्षा पदाधिकारी निरजा कुजूर की उपस्थिति में पीरामल फाउंडेशन के कंसलटेंट धीरेंद्र मिश्रा एवं जीतेंद्र सिंह के द्वारा डिजिटल प्लेटफॉर्म के माध्यम से आहूत प्रशिक्षण सत्र में जिले के चयनित 125 मास्टर ट्रेनर को डिजिटल सुविधा स्किल एवं सुविधा रिमोट लर्निंग प्रोग्राम के तहत विस्तार पूर्वक जानकारी दी गई। इस संबंध में क्षेत्रीय उपनिदेशक के द्वारा कोविड-19 के दौर में इस प्रोग्राम के महत्ता के बारे में विस्तार से बताया गया कि इस दौर में अध्यापकों को डिजिटल दक्ष होना बहुत जरूरी है क्योंकि आज के डिजिटल युग में आप अपने बहुत सारे दैनिक कार्य इस माध्यम से आसानी से कर सकते हैं। उन्होंने बैठक में उपस्थित शिक्षकों एवं मास्टर ट्रेनर को निर्देशित करते हुए कहा कि जिले के सभी शिक्षकों को यह ट्रेनिंग 1 सप्ताह के अंदर दे दिया जाए, जिससे सभी को इस विषय की जानकारी विस्तार पूर्वक प्राप्त हो सके। इसके साथ ही अध्यापकों को बताया गया कि छात्रों की लर्निंग प्रक्रिया को किस प्रकार से सुचारू रूप से संचालित किया जा सकता है तथा छात्रों को डिजिटली शिक्षा से जोड़ने हेतु किस प्रकार कार्य किया जाना है एवं किस प्रकार से छात्रों के कौशल का विकास एवं सीखने की क्षमता को बढ़ाया जा सकता है।