उपायुक्त की अध्यक्षता में जिला समाज कल्याण विभाग के कार्यों की समीक्षा बैठक संपन्न

गुमलाः  उपायुक्त गुमला शिशिर कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में जिला समाज कल्याण विभाग के कार्यों की समीक्षा हेतु बैठक आईटीडीए भवन के सभागार में की गई।

बैठक में टेक होम राशन की सीमक्षा की गई। समीक्षा के क्रम में जिला समाज कल्याण पदाधिकारी सीता पुष्पा द्वारा बताया गया कि जेएसएलपीएस द्वारा जुलाई माह का टेक होम राशन सभी आंगनबाड़ी कंद्रों में वितरित कर दिया गया है।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की समीक्षा के क्रम में उपायुक्त ने सरकार द्वारा निर्धारित नए लक्ष्य को 31 अगस्त 2021 तक पूर्ण करानमे का निर्देश सभी बाल विकास परियोजना पदाधिकारियों को दिया। साथ ही एचएमआएस डाटा से प्रथम गर्भवती महिलाओं की सूची का मिलान कर सभी योग्य लाभुकों को प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना से लाभान्वित करने का निर्देश दिया।

मुख्यमंत्री सुकन्या योजना की समीक्षा के क्रम में बताया गया कि योजनांतर्गत निर्धारित लक्ष्य 7500 के विरूद्ध 1172 लक्ष्य की प्राप्ति कर ली गई है। इसपर उपायुक्त ने 31 अगस्त तक योजनांतर्गत लक्ष्य की शत-प्रतिशत प्राप्ति सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। वहीं मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की समीक्षा के क्रम में पाया गया कि योजनांतर्गत 363 लाभुकों के कन्यादान हेतु लक्ष्य निर्धारित है। जिसके विरूद्ध 180 लक्ष्य की प्राप्ति कर ली गई है।

बैठक में पोषण ट्रैकर ऐप पर किए जाने वाली डाटा प्रविष्टियों की समीक्षा की गई। बताया गया कि जिले के 1670 आंगनबाड़ी केंद्रों का पंजीकरण हो चुका है तथा 98 प्रतिशत लाभुकों को भी पंजीकृत कर दिया गया है। किंतु 02 प्रतिशत वैसे लाभुक जो पलायन कर गए हैं उनकी प्रविष्टी पोर्टल पर नहीं की जा सकी है। इसपर उपायुक्त ने वैसे लाभुकों का सर्वेक्षण कराकर शत-प्रतिशत पोर्टल पर प्रविष्टि सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया।

बैठक में जिले के 491 जर्जर आंगनबाड़ी भवनों की सूची के आलोक में आश्यकतानुसार छत/ दरवाजे/ खिड़कियों/ प्लास्टर व फर्श के मरम्मति हेतु एक सप्ताह के अंदर सत्यापन कराने का निर्देश दिया गया, ताकि प्राक्कलन तैयार किया जा सके।

इसके अलावा उपायुक्त ने सभी सीडीपीओ एवं महिला पर्यवेक्षिकाओं को 20 से 30 अगस्त तक राष्ट्रीय कृमि मुक्ति कार्यक्रम के तहत सेविकाओं एवं सहायिकाओं के माध्यम से 01 वर्ष से 19 वर्ष के बच्चों को एल्बेंडाजोल की गोली विशेष निगरानी में खिलाने का निर्देश दिया। इसके साथ ही उन्होंने सभी महिला पर्यवेक्षिकाओं, सेविका एवं सहायिकाओं को अपने-अपने पोषण क्षेत्रांतर्गत बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों का कोरोना जाँच एवं टीकाकरण अनिवार्य रूप से सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया।

बैठक में उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा, उप विकास आयुक्त संजय बिहारी अंबष्ठ, अपर समाहर्त्ता सुधीर कुमार गुप्ता, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी सीता पुष्पा, बाल विकास परियोजना पदाधिकारी घाघरा/ बिशुनपुर/ पालकोट/ चैनपुर/ सिसई/ कामडारा सहित सभी प्रखंडों की महिला पर्यवेक्षिकाएं व अन्य उपस्थित थे।