रैयतों को भूमि अधिग्रहण का मुआवजा भुगतान की जाए : सांसद

सांसद गीता कोड़ा के नेतृत्व में रैयतों ने की उपायुक्त से मुलाकात
रामगोपाल जेना
चाईबासा : वर्ष 2013-14 में सिंघपोखरिया पीडब्ल्यूडी पथ से जैतगढ़ भाया झींकपानी – सिरिंगसिया जगन्नाथपुर पथ के चौड़ीकरण एवं मजबूतीकरण , असुरा – बलंडिया कुमारडूंगी पथ के चौड़ीकरण एवं मजबूतीकरण , भोया – पांड्रासाली पथ के चौड़ीकरण एवं मजबूतीकरण , चाईबासा – सैतवा पथ के चौड़ीकरण एवं मजबूतीकरण , तांतनगर मझगांव भाया भरभरिया कुमारडूंगी पथ के चौड़ीकरण एवं मजबूतीकरण , हाटगम्हरिया – बेनीसागर पथ भाया बलंडिया भोंडा पथ के चौड़ीकरण एवं मजबूतीकरण , मझगांव – खैरपाल जैतगढ़ पथ चौड़ीकरण एवं मजबूतीकरण , चक्रधरपुर – सोनुवा – गोईलकेरा पथ चौड़ीकरण एवं मजबूतीकरण का कार्य वर्ष 2013-14 में पूर्ण कर लिया गया परंतु रैयतों को भूमि अधिग्रहण का मुआवजा आज तक नहीं नहीं दिए जाने पर सिंहभूम की सांसद सह प्रदेश कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष गीता कोड़ा के नेतृत्व में रैयतों ने शुक्रवार को प०सिंहभूम जिले के उपायुक्त से मुलाकात किया । सांसद गीता कोड़ा ने उपायुक्त को कहा कि संबंधित भूमि रैयतों द्वारा कई बार विभाग में मुआवजा भुगतान हेतु पत्राचार किया गया है , इनमें से कुछ बड़ा झींकपानी , दोकट्टा और बड़ालिसिया ग्राम के भूमि रैयत है । इनका सिंहपोखरिया पी०डब्ल्यू०डी पथ से जैतगढ़ भाया झींकपानी – सिरिंगसिया जगन्नाथपुर पथ के चौड़ीकरण एवं मजबूतीकरण में भूमि अधिग्रहण किया गया है । जिसमें भूअर्जन विभाग द्वारा संशोधित मुआवजा भुगतान का नोटिस पत्र दिया गया है । नोटिस में उल्लेखित आदेश के अनुसार रैयतगण समुचित कागजात भू-अर्जन विभाग में जमा कर चुके है , परंतु इसके पश्चात भी रैयतगण को मुआवजा भुगतान नहीं किया गया है । विभाग द्वारा मुआवजा भगतान के नाम पर केवल रैयतों को आश्वासन दिया जा रहा है , वहीं राशि की अनुपलब्धता बताकर कई रैयतों से आवेदन तक स्वीकार नहीं किया जा रहा है जो न्यायउचित नहीं है ।
सांसद गीता कोड़ा ने आगे उपायुक्त को कहा कि यथाशीघ्र संज्ञान लेते हुए रैयतों को भूमि अधिग्रहण का मुआवजा भुगतान करने की दिशा में समुचित कार्रवाई की जाए ।