जनसंघ के संस्थापक डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी का बलिदान दिवस मनाया गया

जामताड़ा:  भाजपा के राष्ट्रीय और प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर कार्यकर्ताओं ने बुथ स्तर पर कार्यक्रम कर डा श्यामाप्रसाद मुखर्जी को श्रद्धांजली अर्पित किया।
सतसाल गांव मे भाजयुमो के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य राजेश यादव के नेतृत्व मे कार्यक्रम किया गया उपस्थित कार्यकर्ताओं ने डा श्यामा प्रसाद मुखर्जी के तैल चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजली दिया।
मौके पर उपस्थित भाजयुमो के प्रदेश महामंत्री मनीष दूबे ने उनके जीवनी पर प्रकाश डालते हुए कहा कि श्यामाप्रसाद मुखर्जी ने देश के एकता और अखंडता के लिए अपने प्राणो कि आहुति दे दि और उनके दिखाए मार्ग पर चलकर भाजपा ने कश्मीर से धारा 370 हटाकर उनको सच्ची श्रद्धांजली अर्पित किया हैं।
भाजपा ओबीसी मोर्चा के प्रदेश मिडिया प्रभारी मोहन शर्मा ने कहा कि डा श्यामाप्रसाद मुखर्जी ने देश के अखंडता के लिए अपने जीवन के सारे सुविधाओं को ठुकरा कर अपनो प्राणो कि आहुति दे कर कश्मीर को भारत का अभिन्न अंग बनाने मे अपनी अहम भुमिका निभाया।
भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य कमलेश मंडल ने कहा कि जनसंघ के संस्थापक अध्यक्ष डा श्यामाप्रसाद मुखर्जी ने आजाद भारत को कई टुकड़ों मे बंटने से बचा लिया जो हम सब उनके ऋणी है।
भाजपा ओबीसी मोर्चा के प्रदेश संयोजक राजेन्द्र राउत ने कहा कि डा श्यामाप्रसाद प्रसाद मुखर्जी आज के युवाओं के प्रेरणास्रोत हैं जिनके मार्ग पर चलकर भारत आज विश्व गुरु बनने कि ओर अग्रसर है और देश के इतिहास मे हमेशा उनका नाम स्वर्ण अक्षरों मे लिखा जाएगा।
इस अवसर पर राजेश यादव ने कहा कि आजादी के बाद भारत मे अमन चैन कायम हुआ और कश्मीर से कन्याकुमारी तक एकता बना वह डा श्यामाप्रसाद मुखर्जी का देन हैं। कार्यक्रम मे धन्यवाद ज्ञापन रथु दास ने किया मौके पर गौरव यादव,राजीव सिंह सहित दर्जनो भाजपा कार्यकर्ता और ग्रामीण उपस्थित हुए।