बरही में किया गया सद्भावना विकास मंच डॉक्यूमेंट्री मूवी का प्रदर्शन

एसडीओ पूनम कुजूर ने कहा कि कोरोना काल में सद्भावना विकास मंच का रहा अहम योगदान

बरही से बिपिन बिहारी पाण्डेय

बरही (हजारीबाग) : जिले के बरही नगर भवन में बरही सद्भावना विकास मंच के द्वारा कोरोना काल दौरान किये गए कई सराहनीय कार्यों पर आधारित की एक डॉक्यूमेंट्री मूवी का प्रदर्शन शानदार समारोह के बीच किया गया। यह डॉक्यूमेंट्री मूवी बरही के रसोईया धमना पुरहारा निवासी नितेश कुमार के सौजन्य से प्रदर्शित किया गया। समारोह की अध्यक्षता सद्भावना विकास मंच के अध्यक्ष राज सिंह चौहान व संचालन सचिव कुंदन शर्मा ने की। समारोह का उद्घाटन बरही एसडीओ पूनम कुजुर, डीएसपी नजीर अख्तर, हजारीबाग सर्किल पुलिस इंस्पेक्टर ललित कुमार, अनुमंडलीय चिकित्सा प्रभारी डॉ शशि शेखर सिंह, डॉ प्रकाश ज्ञानी आदि अतिथियों ने संयुक्त रुप से दीप प्रज्वलित कर किया। वहीं कोरोना काल दौरान मृत हुए लोगों की आत्मा शांति के लिए 2 मिनट का मौन धारण कर श्रद्धांजलि दी गई। साथ ही कोरोना से दिवंगत हुए बरही पुरहारा के समाजसेवी स्व. होरील यादव व बरहीडीह के स्व. रविकांत शर्मा की तस्वीर पर पुष्प अर्पित भी किया गया। नगर भवन में बरही प्रखंड सहित अनुमंडल क्षेत्र से आए भारी संख्या में उपस्थित महिला पुरुषों ने मंच के लोगों को गर्मजोशी के साथ स्वागत किया। वहीं अच्छे कार्य के लिए झारखंड स्थापना दिवस पर मुख्यमंत्री द्वारा सम्मानित हुए बरही थाना के एएसआई दिनेश कुमार महतो को भी शॉल उढ़ाकर व पुष्पगुच्छ देकर सम्मानित किया गया। समारोह में 26 मिनट का प्रदर्शित किये गए इस डॉक्युमेंट्री मूवी में मुख्य रूप से करोना काल की संकट घड़ी में अपनी जान का परवाह किये बगैर कोरोना योद्धा बन कर पुलिस मित्र सद्भावना मंच के लोगों द्वारा दिल को छूने वाले किये गए कार्यों को बखूबी दिखाया गया। मूवी में कुछ ऐसे भी सीन दिखाए गए जिसे देख लोग काफी भावुक हो गए, लोगों के आंखों से बरबस आंसू तक टपकने लगे। दैनिक जागरण जैसे अखबारों की खबरों को भी मूवी में दिखलाया गया। मौके पर उपस्थित एसडीओ पूनम कुजूर, डीएसपी नाजिर अख्तर, बीडीओ अरविंद देवाशीष टोप्पो, पुलिस इंस्पेक्टर ललित कुमार आदि प्रशासनिक अधिकारी सहित सभी लोग मंच के कार्यों और मूवी का सराहना किया। वहीं कहा कि मंच के लोग प्रशासन की सहयोगी इकाई बनकर क्षेत्र में शांति – सद्भावना, आपसी भाईचारे का विकास के साथ-साथ मानवता की सेवा के लिए तत्पर रहते हैं। कोरोना काल में किए गए इनके कार्यों का जितना भी सराहना किया जाए कम है। अध्यक्ष राजसिंह चौहान ने कहा कि इस कोरोना काल ने हमें सीखा दिया कि अमीर गरीब कुछ नही होता है। मानव सेवा सबसे बड़ी सेवा है। इच्छुक लोग मंच से जुड़कर लोगो की सेवा करे। कार्यक्रम के अंत में मंच के सक्रिय सदस्य मंटू कुमार व बहु प्रतिभा के धनी सुनील मिश्रा ने अपने शायरी और संगीत से लोगों को मंत्रमुग्ध किया।