मानसिक अवसाद के शिकार सहारा इंडिया के एजेंट ने फंदे से झूलकर दे दी जान

बोकारो से जय सिन्हा
बोकारो: सहारा इंडिया में लोगों के खून पसीने की कमाई जमा कराने के बाद उन्हें वापस नहीं दिला पाने का दबाव अब एजेंट नहीं झेल पा रहे हैं । यही कारण है कि आए दिन सहारा इंडिया कार्यालय में हंगामा हो रहा है। इस दबाव के कारण सहारा इंडिया के एजेंट गणेश नोनिया ने फंदे से झूल कर आत्महत्या कर ली। घटना आई ई एल थाना क्षेत्र के गवर्नमेंट कॉलोनी की है। मृतक गणेश नोनिया पिछले 20 वर्षों से सहारा इंडिया में एजेंट का काम करता था। वर्तमान समय में लोगों की जमा पूंजी को वापस दिलाने में नाकाम होने के बाद वह काफी डिप्रेशन में रह रहा था। बीती रात वह घर से बाहर निकला और अपने तबेले में रस्सी के सहारे झूल कर आत्महत्या कर ली ।इस घटना की जानकारी अहले सुबह तब लगी जब मृतक की पत्नी राधा देवी उसे खोजने के लिए बाहर निकली। इस घटना के बाद परिवार वालों का रो रो कर बुरा हाल है। जानकारी के मुताबिक मृतक की तीन बेटियां ही है ।लोगों ने स्थानीय आई ई एल थाना को इसकी सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
वहीं थाना प्रभारी आशीष कुमार ने बताया कि मृतक कुछ दिनों से काफी मानसिक तनाव से गुजर रहा था ।इसका कारण सहारा इंडिया में पैसे वापसी नहीं कराना बताया जा रहा है।