सहायक समाहर्ता ने किया प्रवासी मजदूरों के लिए संचालित कम्युनिटी किचन का निरीक्षण

गोड्डा : जिला प्रशासन के तत्वावधान में गोड्डा कॉलेज में प्रवासी मजदूरों के लिए चल रहे जांच एवं राहत शिविर के अंतर्गत संचालित भोजन शिविर का बुधवार को भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रशिक्षु अधिकारी सह सहायक समाहर्ता ऋतुराज एवं अन्य अधिकारियों ने निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान श्री ऋतुराज ने किचन से जुड़े लोगों को आवश्यक निर्देश देते हुए व्यवस्था में दृष्टिगत त्रुटियों के प्रति ध्यान आकृष्ट करते हुए आवश्यक निर्देश दिए। इस अवसर पर अनुमंडल पदाधिकारी गोड्डा संजय पीएम कुजूर, जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी विवेक सुमन, नगर परिषद के विशेष पदाधिकारी राजीव मिश्रा व नीति आयोग के जिला समन्वयक संतोष कुमार समेत नगर परिषद अध्यक्ष जितेंद्र कुमार मंडल एवं जिला परिषद सदस्य घनश्याम यादव , रेडक्रॉस के सुरजीत झा, समीर दुबे, अखिल झा, आशुतोष झा एवं इम्तियाज अहमद के अलावा अडानी पॉवर लिमिटेड के स्वयंसेवी नीरज कुमार एवं चन्द्रशेखर कुमार मौजूद थे। कम्युनिटी किचन के प्रभारी सुरजीत झा ने बताया कि प्रवासी मजदूरों के लिए विशेष तौर पर संचालित उक्त भोजन केंद्र में अब तक 18 सौ से अधिक लोगों ने भोजन प्राप्त किया। उन्होंने बताया कि इसके अलावा मेडिकल टीम एवं स्वयंसेवियों के लिए बुधवार से ज्ञानस्थली पब्लिक स्कूल द्वारा सुबह व शाम के नाश्ते की जिम्मेवारी ली गयी। श्री झा ने बताया कि शहर के विभिन्न स्थानों पर संचालित कम्युनिटी किचन की सेवा बदस्तूर जारी है।
उल्लेखनीय है कि झारखंड मुक्ति मोर्चा की केंद्रीय समिति के सदस्य एवं पूर्व जिला अध्यक्ष राजेश मंडल ने आरोप लगाया था कि मंगलवार की रात प्रवासी कम्युनिटी किचन में करीब 5 दर्जन प्रवासी श्रमिकों को भोजन उपलब्ध नहीं हो सका था। समझा जाता है कि श्री मंडल के आरोप के आलोक में ही बुधवार को अधिकारियों ने कम्युनिटी किचन का निरीक्षण किया।

क्या कहते हैं झामुमो केंद्रीय समिति के सदस्य:

जिला प्रशासन द्वारा नहीं की गई मजदूरों के खाने की व्यवस्था: राजेश मंडल

झारखंड मुक्ति मोर्चा के केंद्रीय समिति सदस्य एवं पूर्व जिला अध्यक्ष राजेश शाह मंडल ने इस बात पर रोष व्यक्त किया है कि 12 मई को रायपुर से पहुंचे प्रवासी मजदूरों के लिए जिला प्रशासन द्वारा खाने की कोई व्यवस्था नहीं की गई।
श्री मंडल ने कहा कि आज 12 मई 2020 को रात्रि 8:30 बजे रायपुर से भाया रांची गोड्डा लाए गए प्रवासी मजदूरों के लिए गोड्डा में प्रशासन द्वारा खाने की कोई व्यवस्था नहीं की गई।रास्ते में तो रांची प्रशासन के द्वारा खाने की व्यवस्था किया गया था ,लेकिन गोड्डा प्रशासन के द्वारा प्रवासी मजदूरों के लिए गोड्डा कॉलेज के प्रांगण में अवस्थित कैंप में भोजन की कोई व्यवस्था नहीं थी। वहां मजदूरों को जांच हेतु रुकना पड़ता है , जिसमें काफी समय भी लगता है ।लेकिन प्रशासन के द्वारा मजदूरों के भोजन की कोई व्यवस्था नहीं की गई थी ।मजदूरों के द्वारा गोड्डा जिला झारखंड मुक्ति मोर्चा के पूर्व अध्यक्ष राजेश मंडल को सूचना दी गई । सूचना पाकर अविलंब अपने झामुमो के साथी प्रिंस कुमार एवं विक्रम यादव के द्वारा सभी मजदूरों के लिए चूड़ा, दालमोट, प्याज, नमक आदि तत्काल मुहैया कराया गया । सभी मजदूर चूड़ा पाकर काफी उत्साहित थे ।साथी मजदूर लालमोहन राउत , मुकेश, संजीव रावत, विकास मांझी आदि मजदूरों ने तहे दिल से जिला झारखंड मुक्ति मोर्चा को धन्यवाद दिया।