सरहुल को ले आदिवासियों ने की पूजा अर्चना

कोरोना को ले कम संख्या में जुटे लोग
हिरणपुर : सरहुल पर्व को लेकर शुक्रवार को आदिवासियों ने पूजा अर्चना की। प्रखण्ड के डांगापाड़ा गाँव के बाहर स्थित जाहेरथान में तीन कोणों पर तीर गाड़ा गया। इसके बाद धनुष को सामने रखा गया। वही साल की नए पत्ते व फूल को पूजा स्थल पर रखा गया था। इसके बाद ग्राम प्रधान मुंशी सोरेन द्वारा देवी देवताओं को नहला धुलाकर पूजा अर्चना की गई। वही गाँव के आदिवासी परिवारों के बीच उठाव किये गए चावल से खिचड़ी बनाया गया व उपस्थित लोग सामूहिक रूप से इसका भोजन किया। ग्रामीण सिलवान सोरेन ने बताया कि कोरोना को लेकर इस बार की पूजा में ज्यादा भीड़ नही जुटे। ग्राम प्रधान द्वारा उपवास रखा गया है। वही सभी घरों से पाव भर चावल करके संग्रह किया गया। जाहेरथान से पूजा कर वापस लौटने के बाद परिवार के लोग सभी का पैर धुलाते है। इसके बाद ग्राम प्रधान सरहुल को शांति ढंग से मनाने को लेकर कहते है। इसके बाद गाँव मे शुद्ध पानी की बौछार कर पर्व को मनाया जाता है। यह पर्व आदिवासियों द्वारा परम्परागत रूप से वर्षो से मनाते आ रहे है।