चक्रधरपुर प्रखंड के 47,240 परिवारों को साड़ी-धोती या लूंगी दिया जाएगा

चक्रधरपुर प्रखंड के 47,240 परिवारों को साड़ी-धोती या लूंगी दिया जाएगा।

सोना सोबरन योजना के तहत साड़ी-धोती या लूंगी वितरण का विधायक ने मंडलसाई में किया शुभारंभ

रामगोपाल जेना
चक्रधरपुर: सोना सोबरन योजना के तहत चक्रधरपुर प्रखंड के 47,240 परिवारों को साड़ी-धोती या लूंगी दिया जाएगा। उक्त योजना का वितरण कार्य गुरुवार को विधायक सुखराम उरांव ने सामुदायिक भवन मंडलसाई में किया। जहां पर उपस्थित राशन कार्डधारियों को साड़ी-धोती बांटा गया। तत्पश्चात पंचायत के स्वीकृत दस लाभुकों को प्रधानमंत्री आवास योजना की प्रमाण पत्र भी सौंपा गया। इससे पहले विधायक श्री उरांव के पहुंचने पर प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी आनंद फैलिक्स एक्का द्वारा बुके देकर सम्मानित किया गया। मौके पर श्री उरांव ने कहा कि सोना सोबरन योजना की शुरुआत 2006 में तत्कालीन मुख्यमंत्री गुरुजी शिबू सोरेन द्वारा किया गया था। यह योजना गुरुजी के माता पिता के नाम से शुरु की गई है। योजना की शुरुआत करने का उद्देश्य है कि गरीबों को खाने के लिए जिस तरह अनाज सरकार दे रही है, उस तरह पहनने के लिए कपड़ा भी मिले। उसी योजना को पुनः मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने किया है। ताकि झारखंड के गरीब आदिवासी और मूलवासी को इस योजना का लाभ मिले। विधायक ने यह भी कहा को कोरोना महामारी के कारण दो सालों में भारी नुकसान हुआ है। काफी लोगों की मृत्यु हो गया है। लेकिन कोरोना से बचाव वैक्सीन है। सभी लोग वैक्सीन जरुर लगाए। इससे किसी तरह का नुकसान नहीं है। उन्होंने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए सरकार गाइडलाइन जारी किया है। दुर्गा पूजा के मद्देनजर भी गाइडलाइन बनाया है। यह गाइडलाइन पब्लिक की सुरक्षा के लिए बनती है। फिर भी कोरोना से बचने के लिए हमें वैक्सीन लेना है। मौके पर कोलचोकड़ा मुखिया तबिता कुजूर, केंदों मुखिया शांति देवी, एजीएम मनोज कुमार सिंहा, जन वितरण प्रणाली दुकानदार संघ केक्षजिला सचिव राम प्रताप बर्मन, अमर साव, अशोक दास, प्रताप मिश्रा समेत काफी संख्या में डीलर और लाभुक उपस्थित थे।