सरकार सरना धर्म कोड नहीं देकर प्रकृति पूजक आदिवासियों की धार्मिक पहचान से खिलवाड़ कर रही है : झानद 

बसंत कुमार गुप्ता

गुमला: झारखंड नवनिर्माण दल द्वारा 2021 की जनगणना में सरना धर्म कोड को शामिल करने की मांग को लेकर आदिवासी समाज व संगठनों द्वारा की जा रही आंदोलन को पूर्ण समर्थन करती है । 31 जनवरी 2021 को खासकर आदिवासी सेंगेल अभियान तथा अन्य संगठनों द्वारा बुलाई गई राष्ट्रव्यापी चक्का जाम कार्यक्रम को झारखंड नवनिर्माण दल केंद्रीय समिति नैतिक समर्थन करेगी । वहीं झारखंड नवनिर्माण दल सरना कोड लागू करने के मामले में बगैर राज्यपाल के हस्ताक्षर के केंद्र सरकार के पास हेमंत सरकार द्वारा भेजे जाने को भटकाने वाला कदम मानती है और केंद्र सरकार की चुप्पी को भी आदिवासी विरोधी रवैया हम मानते हैं । झारखंड नवनिर्माण दल केंद्र सरकार से जरूरी प्रक्रिया को पूर्ण करते हुए मांग करती है कि 2021 का जनगणना में सरना धर्म कोड को हर हाल में लागू करने की गारंटी की जाए ।
यह जानकारी
पुष्पा पन्ना , झानद केंद्रीय सदस्य सह प्रभारी महिला मंडल सहयोग संचालन समिति , गुमला , झारखंड ने दी।