कला उत्सव 2021 में स्कूली बच्चों ने दिखाया दमखम, शास्त्रीय संगीत में राजनगर की पायल मंडल रही अव्वल

सरायकेला से भाग्य सागर सिंह की रिपोर्ट

सरायकेला। झारखंड शिक्षा परियोजना सरायकेला खरसावां के तत्वाधान स्कूली बच्चों को लेकर कला उत्सव 2021 का आयोजन किया गया। सरायकेला स्थित राजकीय छऊ नृत्य कला केंद्र में आयोजित उक्त कला उत्सव का शुभारंभ राजकीय छऊ नृत्य कला केंद्र के निदेशक तपन कुमार पटनायक, सेवानिवृत्त वरीय अनुदेशक विजय साहू, शास्त्रीय गायन के नाथू महतो एवं सहायक कार्यक्रम पदाधिकारी अमर प्रकाश टूटी ने दीप प्रज्वलित कर किया। इस अवसर पर स्कूली बच्चों के बीच शास्त्रीय गायन, पारंपरिक गायन, शास्त्रीय वादन, पारंपरिक वादन, शास्त्रीय नृत्य, पारंपरिक नृत्य, दृश्य कला, स्थानीय खिलौने एवं खेल की प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। जिसमें निर्णायक मंडली में केंद्र के निदेशक तपन कुमार पटनायक, सेवानिवृत्त वरीय अनुदेशक विजय साहू, शास्त्रीय गायन के नाथू महतो शामिल रहे। कार्यक्रम का सफल संचालन एवं महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हुए खितीश कुमार महतो, वासुदेव राम एवं राकेश कुमार ने बताया कि जिला स्तरीय कला उत्सव में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले छात्र कलाकार रांची में आयोजित होने वाली राज्य स्तरीय कला उत्सव में जिले का प्रतिनिधित्व करेंगे। जिनके राज्य स्तर पर चयन होने पर राज्य एवं जिला का प्रतिनिधित्व करते हुए दिल्ली में आयोजित होने वाली राष्ट्र स्तरीय कला उत्सव में भाग लेंगे।
शनिवार को आयोजित किए गए जिला स्तरीय कला उत्सव 2021 में शास्त्रीय संगीत में राजनगर की पायल मंडल अव्वल रही। इसी प्रकार पारंपरिक संगीत में बड़ाबांबो की रिया गोप प्रथम रही। शास्त्रीय नृत्य में अंकिता राय प्रथम, पूनम प्रमाणिक द्वितीय एवं वर्षा घटवाली तृतीय स्थान पर रही। चित्रकला ने नियोति सिंह मुंडा प्रथम, अमित कुमार द्वितीय एवं किरण सांडी तृतीय स्थान पर रहे। मूर्ति कला में सपन प्रधान प्रथम, संगीता उरांव द्वितीय एवं सनिया परवीन तृतीय स्थान पर रहे। खिलौना निर्माण कला में शोभा रानी प्रथम, आरती उरांव द्वितीय एवं रुचि कुमारी यादव तृतीय स्थान पर रही। पारंपरिक नृत्य में मानभूम छऊ नृत्य के बलराम महतो प्रथम एवं चंदन मंडल द्वितीय स्थान पर रहे। मौके पर अतिथियों द्वारा सभी विजेता प्रतिभागियों को राज्यस्तरीय कला उत्सव 2021 प्रतियोगिता के लिए शुभकामना दी गई।