प्राधिकार के सचिव ने की बैठक

पाकुड़ : झालसा के निर्देश के ओलाक में जिला विधिक सेवा प्राधिकार पाकुड़ की ओर से प्रभारी अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकार पाकुड़ के मार्गदर्शन में प्राधिकार के सचिव ़ सुनील दत्त द्विवेदी की अध्यक्षता में विधवा वयोवृद्ध नागरिक दिव्यांग व्यक्ति और बच्चों को मिलने वाले अधिकार को दिलाने के लिए ऑनलाइन बैठक का आयोजन किया गया। इस बैठक की अध्यक्षता करते हुए सचिव के द्वारा झालसा रांची के द्वारा निर्देशित विषयों की जानकारी दी गई साथ ही साथ सचिव श्री द्विवेदी के द्वारा सभी से अनुरोध किया गया कि विधवा वयोवृद्ध नागरिक दिव्यांग व्यक्तियों और बच्चों के लिए संबंधित विभागों की ओर से मिलने वाली सरकारी योजनाओं का लाभ इस करोना महामारी के काल में अविलंब दिलाने का प्रयास करें ताकि ऐसे लोगों को जल्द से जल्द उनका अधिकार प्राप्त हो सके सभी पैरा लीगल वालंटियर को यह निर्देशित किया गया कि अपने क्षेत्रों में ऐसे व्यक्तियों को चिन्हित कर उन्हें लाभ पहुंचाने के लिए प्रयासरत रहें तथा अधिवक्ताओं से अनुरोध किया गया कि अपने मार्गदर्शन में सभी पी एल वी को उचित दिशा निर्देश देते रहें ताकि उनके द्वारा अच्छे कार्य की जा सके ताकि समाज के ऐसे लोगों को उनका अधिकार प्राप्त हो सके सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकार के द्वारा ओल्ड एज होम और वन स्टॉप सेंटर के संबंध में भी विस्तृत जानकारी जिला समाज कल्याण पदाधिकारी पाकुड़ से प्राप्त की और साथ ही साथ कोरोना की दूसरी लहर में कई बच्चों ने अपने माता-पिता को खो दिया है। कई ऐसे बच्चे थे, जिनके माता-पिता. अपने बच्चों को पड़ोसी के हवाले कर अस्पताल चले गए, लेकिन लौट कर नहीं आए। ऐसे बच्चों की उचित परवरिश हो और बच्चे किसी गलत हाथ में न चले जाएं साथ ही ऐसे बच्चों को तस्करों से बचाने के लिए झारखंड राज्य विधिक सेवा प्राधिकार (झालसा) ने महत्वपूर्ण पहल की है। अब झालसा ऐसे बच्चों के जीवन-यापन, पढ़ाई, चिकित्सा आदि की व्यवस्था करेगा।बैठक में अन्य कई विषयों की भी जानकारी सचिव के द्वारा दी गई।