भाजपा सरकार का का सात साल, जनता कंगाल, देश बेहाल: अफसर आलम

बसंत कुमार गुप्ता

गुमला: झारखंड मुक्ति मोर्चा के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के जिला उपाध्यक्ष अफसर आलम ने कहा कि भाजपा की नरेंद्र कुमार मोदी की सरकार न राम के हैं न रहमान का. भारत की जनता ने 2014 में प्रधानमंत्री का कुर्सी में इस लिए बैठाया था कि आम आदमी को राहत पहुंचाने में कार्य होगा देश का आर्थिक स्थिति मजबूत किया जा सके गा लोग किन आज हर कोई मंदी का दंश झेल रहे हैं आडानी अंबानी के लिए सारे विकल्प खोल दी गई है इन का घोषणापत्र में सब का साथ सब का विकास की बात कही गई थी लेकिन आज हर कोई तराहीमाम करने को मजबूर होना पड रहा है। हमारा देश पडोसी बंगलादेश से भी आर्थिक स्थिति कमजोर हो गया है चीन हमारे देश के सीमा छेत्र मे घुसता चला जा रहा है और हमारे देश के प्रधानमंत्री और गिरीहमंत्री अमित शाह अपने हिटर शाही से सब को बरबादी के के चौराहे पर ला खड़ा कर दिया है 2014 से पहले हमारे देश में पेट्रोल 60 रू था आज 101है डीजल 50 से आज 91रू गैस 414 रू से 819 रू दाल जो 70 रू था आज 135 रु हो गया है है उसी प्रकार देशी घी 350 परति किलो था आज 550 रू सरसों तेल 56 रू के आस पास था अब 150.से180 बीक रहा है दूध 36 रू लीटर के बदले 56 हो गया है। आम आदमी के लिए जीना मुश्किल हो गया है
आज वह लोग कहीं नहीं दिखाई दे रहा जो कल तक गला फाड फाड कर थाली बजा के पूर्व प्रधानमंत्री डा, मनमोहन सिंह जी को चुनौती और चूडी भेट करते नहीं थकते थे। आज रेलवे विमान सेवा कल कारखाने खनिज संपदाओं को निजी हाथों में अपने चाहने वालों आडनी अंबानी के हाथों में सौप दिया गया है महिलाओं के साथ अनियमितताएं बलतकार की घटना बढ गया है अल्पसंख्यक समुदाय के साथ ही साथ अनुसूचित जनजाति आदिवासी को अपराधियों के द्वारा दिन दहाडे मारा पिटा जा रहा है और सरकार के मुखिया अपना मुँह बंद कर दिए हैं। यह सब जनता देख और समझ लिया है। भाजपा की सरकार न राम का है और न रहमान का है लेकिन हमारी झारखंड की सरकार और युवा क्रान्तिकारी मुख्यमंत्री हेमंत जी झारखंड में भाजपा की चाल कभी कामयाब नहीं होने देंगे झारखंड सरकार एक संवेदनशील और जिम्मेदार सरकार है जिसमें जन भावनाओं का कदर हर वर्ग के लिए एक समान है न कि पिछली रघुवर सरकार मेमोंटम झारखंड का हाथी झारखंड के दो जगहों में उडा कर झारखंड का खजाना खाली कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *