शादी का प्रलोभन देकर युवती को भगाया राजस्थान

दो महिला समेत चार लोगों पर प्राथमिकी दर्ज, एक महिला गिरफ्तार
युवती की सूझबूझ और पुलिस की तत्परता से युवती हुई यूपी से बरामद
बरही से बिपिन बिहारी पाण्डेय
बरही (हजारीबाग) : बरही थाना अंतर्गत गया रोड़ में रह रही गया (बिहार) जिला के इमामगंज थाना अंतर्गत टनकवा गांव की एक युवती सरिता कुमारी उर्फ रिचा कुमारी को शादी का प्रलोभन देकर बरही से राजस्थान भगाने एवं वहां उसे प्रताड़ित किये जाने का मामला प्रकाश में आया है। हालांकि युवती ने सूझबूझ व हिम्मत दिखाते हुए उनकी चंगुल से भाग कर यूपी के आगरा जिला के फतेहपुर थाना अंतर्गत सिकरी पहुंच गई। जिसकी सूचना मिलते ही बरही पुलिस तत्परता दिखाते हुए पीड़िता को सही सलामत यूपी पहुंच कर उसे बरामद कर बरही लाया। बरही पुलिस ने युवती को बहला-फुसलाकर भगवाने के आरोप में उसकी एक पड़ोसन बरही गया रोड़ निवासी एक महिला अनिता देवी पति शिवनाथ यादव को गिरफ्तार किया। वहीं पीड़िता सरिता कुमारी को 164 का बयान एवं मेडिकल जांच के लिए मंगलवार को हजारीबाग भेजा। मंगलवार को इस बाबत बरही थाना में डीएसपी मनीष कुमार ने पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी उत्तम तिवारी के उपस्थिति में प्रेस वार्ता कर बताया कि पिछले 1 जून को गया जिला के इमामगंज थाना अंतर्गत टनकवार गांव निवासी व वर्तमान पता गया रोड बरही के सहदेव प्रसाद अंजना उर्फ सहदेव भुईयां पिता स्वर्गीय डोमन मांझी ने बरही थाना में आवेदन दे कर बताया कि उनकी बेटी सरिता कुमारी उर्फ रिचा कुमारी को पड़ोस मे रहने वाली बरही थाना अंतर्गत पड़रिया गांव निवासी अनीता देवी पति शिवनाथ यादव पिछले 26 अप्रैल को ही भरतपुर राजस्थान के हरदेव शर्मा के हाथों बहला-फुसलाकर शादी का प्रलोभन देकर भेज दिया। हरदेव शर्मा पिता स्व छेदीलाल शर्मा राजस्थान के भरतपुर जिला के कुम्हेर थाना अंतर्गत नरहरु गांव निवासी है जो अनिता देवी के ननदोषी है। साथ ही युवती के पिता ने आवेदन मे बताया कि लॉक डाउन के कारण गया में वह फंसा हुआ था। मुझे फोन पर छोटी लड़की बताई की बहन सरिता कुमारी को पड़ोसन अनीता देवी अपने ननदोषी हरिदेव शर्मा भरतपुर राजस्थान के हाथों भेज दिया। जहां उसकी शादी वकील यादव से करा दिया है। उनके परिवार वालों ने दीदी सरिता कुमारी को कहती है कि तुम्हें खरीद कर लाया गया है, जो कहेंगे मानना पड़ेगा। सरिता कुमारी किसी तरह उन लोगों के चंगुल से भागकर फतेहपुर सिकरी थाना, जिला आगरा उत्तर प्रदेश पहुंची है। डीएसपी ने बताया कि इसकी सूचना मिलते ही बरही पुलिस तुरंत छापामारी दल गठित कर कार्रवाई की गई। छापामारी दल में पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी उत्तम कुमार तिवारी, परिपुअनि. सौरभ कुमार आहूजा, महिला आरक्षी हेमंती कुमारी व सशक्त गार्ड शामिल थे। जिन्होंने फतेहपुर सीकरी थाना जिला आगरा उत्तर प्रदेश से पीड़िता को सकुशल बरही वापस लाया। वही पीड़िता के पिता द्वारा दिये गए लिखित आवेदन के आधार पर अनीता देवी, हरदेव शर्मा, नंदलाल यादव उर्फ वकील यादव एव रेखा देवी के विरुद्ध बरही थाना में कांड संख्या 188 / 20 धारा 376, 366, 370, 506, 34 भादवि के तहत मामला दर्ज कर पड़ोसन अनीता देवी को हिरासत मे लेकर पूछताछ कर जेल भेजा जा रहा है। वहीं प्रेस वार्ता के दौरान यह भी कहा कि लड़की के पिता की दो शादी है, लडकी परेशान रहती थी, उसके पिता घर पर नही रहते थे. पीड़िता का संपर्क अनिता से ट्यूशन पढाने के दौरान हुई। पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवाल पर कहा कि मानव तस्करी का यह मामला प्रतीत नही होता है। शादी का प्रलोभन देकर भगाए जाने का यह मामला है। ऐसे पुलिस मामले की छानबीन को जारी रखा है।