भर-भर बांटे नेह की गागर , सद्गुरु मेरे दया के सागर

रामगढ़: अत्यंत उल्लास , उत्साह एवं उमंग से परिपूर्ण रही ओशो ध्यान की साप्ताहिक बेला। ध्यान सत्र का शुभारंभ दीप प्रज्वलन तथा परम गुरु ओशो तथा बड़े बाबा के छवि चित्र पर सामुहिक पुष्पार्पण के साथ हुआ। आज स्वामी अजय गुप्ता आचार्य की भूमिका में रहे। परम गुरु ओशो की जीवंत स्वर लहरियों के मध्य स्वामी अजय जी नें “डायनेमिक ध्यान” के माध्यम से नवीन अनुभूतियों से साक्षात्कार कराते हुए साधकों तथा ध्यान कक्ष को एक अद्भुत आभा एवं ऊर्जा से ओत-प्रोत कर दिया। सभी साधक गण इस अनुप्रयोग से चकित हो उठे। तत्पश्चात् उत्सव तथा प्रसाद वितरण संपन्न हुआ। इस अवसर पर अशोक कुमार गुप्ता , शिवशंकर प्रसाद , अयोध्या जी , किशोर गुप्ता , मां रानी , मां स्वाति , मां नेहा , मां वैष्णवी , अशोक गुप्ता , स्वामी राज़ रामगढी सहित कई ओशो साधक गण उपस्थित थे।