सरस्वती विद्या मंदिर 3 सी में ‘श्री कृष्ण रूप सज्जा प्रतियोगिता का हुआ आयोजन

बोकारो से जय सिन्हा
बोकारो:  बोकारो के  सेक्टर 3 सी स्थित सरस्वती विद्या मंदिर परिसर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर ‘ रूप-  सज्जा प्रतियोगिता ‘ आयोजित हुई I कार्यक्रम का  शुभारंभ दीप प्रज्वलन के साथ भारतीय संस्कृति ज्ञान मन्दिर संस्था सह विद्यालय सचिव सिद्धेश नारायण दास ने किया I प्राचार्य हरिनारायण शर्मा ने मंचस्थ अभ्यागत का परिचय कराते हुए श्रीकृष्ण रूप – सज्जा प्रतियोगिता की महत्ता के बारे मे प्रकाश डाला और कहा कि आज समाज श्रीकृष्ण की भूमिका को विस्मृत करते जा रहा है I श्रीकृष्ण ने धर्म की स्थापना के निमित्त अभूतपूर्व संघर्ष किया एवं विराट भारत की रचना की I उन ऐतिहासिक क्षणों की याद को तरोताजा करने के उद्देश्य से श्रीकृष्ण रूप- सज्जा प्रतियोगिता का आयोजन किया गया है I विद्यालय सचिव श्री दास ने अपने संबोधन में प्रतिभागियों को उत्साहित किया और कहा कि पौराणिक संघर्षों का इतिहास वर्तमान के समाज का आधार हुआ करता है I इसकी शिक्षा श्रीकृष्ण के समग्र जीवन से लेने की प्रेरणा मिलती है I भैया- बहनों ने रूप- सज्जा के माध्यम से य़ह प्रतिफलित किया है I ‘ कान्हा रे थोड़ा- सा प्यार दे ‘ गीत में बहन तान्या, नूपुर और स्नेहा की, ‘मधुबन में राधिका नाचे रे ‘ नृत्य में बहन शिवांगी एवं श्रेया की, ‘कृष्ण- सुदामा मिलन ‘ में नंदिनी एवं कुमकुम की, ‘कृष्ण की चेतावनी ‘ में स्नेहा कुमारी, ‘कृष्ण- अर्जुन ‘ सम्वाद में तान्या एवं खुशी की, ‘भोली-  भाली राधिका ‘ में वैष्णवी एवं नंदनी की तथा ‘कृष्ण- सुदामा ‘ संवाद में कुंकुम, नंदिनी, सन्ध्या एवं श्वेता की अभूतपूर्व भूमिका देखी गई I  इस प्रकरण में बहन अपराजिता की काव्य- रचना पाठ ने श्रोताओं को मंत्रमुग्ध किया I शिक्षिका निशा सिंह तथा नीलम कुमारी ने निर्णायक की भूमिका प्रदान की I संयोजिका सिंधु सिंह, अर्चना, नीलम पांडेय, बीना सिंह, रानू शंकर आदि उपस्थित थी I मंच संचालन बहन पूजा ने की I धन्यवाद ज्ञापन शैक्षिक प्रमुख बिनोद कुमार झा ने किया I मौके पर ब्रजेश कुमार,  डॉ आर ऐन शर्मा, प्रवीण कुमार झा, राधा मोहन पांडेय, शम्भू कुमार, दिनेश कुमार पांडे, ओमप्रकाश, संतोष कुमार सिन्हा, अनिल कुमार मिश्रा, समीर कुमार आदि उपस्थित थे I