सिमडेगा जिला देश भर में हॉकी सिमडेगा के नाम से जाना जाय: अर्जुन मुंडा

विनोद कुमार
रांची। जनजातीय मामलों के केन्द्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने शुक्रवार को हॉकी की नगरी सिमडेगा में जिले के विभिन्न खेल संघ के पदाधारियों के साथ बैठक की। इस दौरान श्री मुंडा ने हॉकी की नर्सरी सिमडेगा में हॉकी के साथ साथ सभी खेलों को बढ़ावा देने पर जोर दिया। केन्द्रीय मंत्री ने कहा सिमडेगा हॉकी के ब्रांड के रूप में विकसित होगा। साथ हीं यहां अन्य खेलों को भी बढ़ावा देते हुए उसके अनुकुल इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार किए जाएगे। टोक्यो ओलंपिक में सेमीफाइनल तक पहुंच कर हॉकी ने फिर पुरानी दिन को वापस लौटाने का भरोसा दिखाया है। 2024 में हॉकी के बेहतर के लिए सिमडेगा जिला क्या बेहतर कर सकता है इसके लिए प्रयास किया जाए। भारत सरकार से इंफ्रास्ट्रक्चर हेतु जितनी भी पैसा की आवश्यकता होगी राज्य सरकार प्रपोजल भेजेगी तो उस दिशा में पैसा दिलाने का प्रयास किया जाएगा। सिमडेगा में खेल के प्रति बिजन डेकोमेंट्स बननी चाहिए जिससे खिलाड़ी नेशनल इंटरनेशनल स्तर तक पहुंच कर देश और राज्य का नाम रोशन करे। सभी खेल संघ कोर्डिनेशन बना कर सिर्फ हॉकी ही नहीं बल्कि सभी खेलों में सिमडेगा जिला आगे बढ़े उसका प्रयास हो। मौके पर हॉकी सिमडेगा के अध्यक्ष मनोज कोनबेगी ने आवासीय हॉकी प्रशिक्षण केंद्र में प्रशिक्षक नही होने सहित कई मांगो को केंद्रीय मंत्री के पास रखा। मौके पर सिमडेगा के उपायुक्त शुशांत गौरव, भाजपा जिलाध्यक्ष लक्ष्मण बड़ाईक, जिला प्रभारी शैलेन्द्र सिंह, पूर्व मंत्री विमला प्रधान, सांसद प्रतिनिधि सुशील श्रीवास्तव, सोशल मीडिया प्रभारी रवि गुप्ता सहित सभी खेल संघ के सदस्य मौजूद थे। हॉकी सिमडेगा के अध्यक्ष मनोज कोनबेगी ने खेल संघ की ओर से केन्द्रीय मंत्री को हॉकी स्टिक देकर स्वागत किया।