पर्यटन स्थल के रूप में विकसित होगा सिंघेश्वर नाथ मंदिर

– पूर्व विधायक प्रशांत कुमार ने सरकार की कार्रवाई पर जताई खुशी
गोड्डा: जिला के पोड़ैयाहाट प्रखंड अंतर्गत शिव नगर में अवस्थित प्रसिद्ध सिंघेश्वर नाथ मंदिर पर्यटन स्थल के रूप में विकसित होगा। झारखंड विधान सभा के अध्यक्ष रविंद्र नाथ महतो के पत्र के आलोक में झारखंड सरकार के पर्यटन, खेलकूद एवं कला संस्कृति विभाग के संयुक्त सचिव ने उपायुक्त सह अध्यक्ष जिला पर्यटन संरक्षण समिति को पत्र लिखकर सिंघेश्वर नाथ महादेव मंदिर का पर्यटन संभावना के अनुरूप आवश्यक कार्यों को जिला में उपलब्ध अनाबद्ध निधि से संपन्न कराया जाए। सरकार के इस निर्णय पर क्षेत्र के पूर्व विधायक प्रशांत कुमार ने खुशी जताई है।
मालूम हो कि विधानसभा अध्यक्ष श्री महतो कुछ माह पूर्व सिंघेश्वर नाथ महादेव मंदिर पूजन अर्चन के लिए आए थे। मंदिर प्रबंधन समिति के मनीष आनंद समेत ग्रामीणों ने विधानसभा अध्यक्ष से मंदिर को पर्यटक स्थल के रूप में विकसित करने की मांग की थी। इस मांग के आलोक में विधानसभा अध्यक्ष श्री महतो ने 9 जुलाई 21 को झारखंड सरकार के पर्यटन, कला संस्कृति, खेलकूद एवं युवा कार्य विभाग को पत्र लिखा था। पत्र में श्री महतो ने इस बात का उल्लेख किया था कि पोड़ैयाहाट प्रखंड अंतर्गत शिव नगर में स्थित सिंघेश्वर नाथ मंदिर संपूर्ण झारखंड, खासकर संथाल परगना के लोगों के आस्था का महत्वपूर्ण केंद्र है। मंदिर में प्रतिदिन पूजा अर्चना के लिए काफी संख्या में श्रद्धालु आते हैं। मंदिर को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किए जाने पर स्थानीय लोगों के लिए रोजगार का द्वार भी खुलेगा। साथ ही राज्य में पर्यटन को विकसित करने की दिशा में भी एक महत्वपूर्ण कदम होगा।
विधानसभा अध्यक्ष के पत्र के आलोक में झारखंड सरकार के पर्यटन कला संस्कृति खेलकूद एवं युवा कार्य विभाग के संयुक्त सचिव राजू रंजन राय ने उपायुक्त सह अध्यक्ष जिला पर्यटन संवर्धन समिति को पत्र लिखकर सिंघेश्वर नाथ महादेव मंदिर को पर्यटक स्थल के रूप में विकसित करने का अनुरोध किया है।

पोड़ैयाहाट के पूर्व विधायक प्रशांत कुमार ने कहा है कि सिंघेश्वर नाथ मंदिर पर्यटन स्थल के रूप में विकसित होने पर इस पिछड़े इलाके में काफी रोजगार का अवसर भी पैदा होगा । इस मंदिर को राजा भीमसेन के द्वारा बनाया गया था।
उन्होंने बताया कि उनके अनुरोध पर तत्कालीन पर्यटन सचिव सुशील चौधरी द्वारा मां योगिनी स्थल पथरगामा,सिंघेश्वर नाथ मंदिर, पोड़ैयाहाट और सुमेश्वर नाथ मंदिर, सरैयाहाट को पर्यटन विभाग से 40- 40 लाख दिलाने का काम किया गया था। इसी क्रम में पोड़ैयाहाट के गुडमेश्वर मंदिर को भी उनके द्वारा 54 लाख रुपया दिलाने का काम पर्यटन विभाग से किया गया था ।लेकिन उसके बाद स्थानीय प्रतिनिधियों द्वारा इस कार्य में कोई रुचि नहीं लिया गया, जिस कारण इन मंदिरों का सौंदर्यीकरण अधूरा रह गया था। इस बीच जब रघुवर दास के सरकार में भी 3 करोड़ 16 लाख का प्राक्कलन भी बना।लेकिन सचिव ने सिंघेश्वर नाथ मंदिर को विकसित न करके पोड़ैयाहाट‌ के बोहरा में काली मंदिर के लिए आदेश निकाल दिया। जिस कारण एक बार फिर सिंघेश्वर नाथ मंदिर का काम प्रभावित रहा। लेकिन काफी अर्से के बाद विधानसभा अध्यक्ष रविंद्र नाथ महतो जब सिंघेश्वर नाथ मंदिर कुछ माह पूर्व आए थे। उस समय ही उन्होंने घोषणा किए थे कि इस मंदिर को पर्यटन विभाग से विकसित कराउंगा। अपने इस वादे को पूरा करने के लिए उन्होंने सरकार को पत्र भी लिखा है। इस कार्य से इलाके में काफी खुशी व्याप्त है। पूर्व विधायक ने उपायुक्त से अनुरोध किया है कि इस कार्य को अविलंब शुरू किया जाए।
सिंघेश्वर नाथ मंदिर प्रबंधन समिति के मनीष आनंद ने विधानसभा अध्यक्ष द्वारा मंदिर को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित कराने के लिए किए जा रहे प्रयास पर खुशी जाहिर की है।