सामाजिक कार्यकर्ताओं ने स्व0 गीता वर्मा को दी श्रद्धांजलि

खैराचातर महिला प्रशिक्षण केंद्र में शोक सभा का आयोजन

बोकारो से जय सिन्हा
बोकारो: कसमार प्रखंड की बगदा निवासी सामाजिक कार्यकर्ता गीता वर्मा के निधन पर क्षेत्र के दर्जनों सामाजिक कार्यकर्ताओं ने खैराचातर स्थित महिला प्रशिक्षण केंद्र में श्रद्धांजलि सभा आयोजित की। इस अवसर पर बोकारो जिले के कसमार, जरीडीह, नावाडीह, बेरमो प्रखंड से जुटे दर्जनों सामाजिक कार्यकर्ताओं एवं पंचायत प्रतिनिधियों ने गीता वर्मा की तस्वीर पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि गीता वर्मा की सृजनात्मक विचार एवं सामाजिक पहचान की बदौलत ही आज बोकारो जिले में दर्जनों सामाजिक कार्यकर्ताओं की फौज खड़ी हुई है। वक्ताओं ने कहा स्व वर्मा ने अपने कठिन संघर्ष से क्षेत्र में महिलाओं को हक अधिकार दिलाया। इस क्रम में उन्हें कई बार समाज के दबंग लोगों से लड़ाई लड़नी पड़ी। सभी वक्ताओं ने स्व वर्मा के आदर्शों एवं अधूरे कार्यों को पूरा करने का संकल्प लिया। कहा कि आज के समय में गीता वर्मा जैसी संघर्षशील महिला की जरूरत है, तभी समाज में महिला हिंसा, दहेज उत्पीड़न जैसी घटनाओं को रोका जा सकता है। इस अवसर पर कार्यकर्ताओं ने दो मिनट का मौन रखकर स्व वर्मा की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। गौरतलब है स्व, वर्मा अपने बेटे के पास दिल्ली में आखरी सास ली। मौके पर खैराचातर पंचायत की मुखिया प्रतिमा देवी, सामाजिक कार्यकर्ता सरस्वती सिंह, हरेंद्र वर्मा, कल्याणी सागर, रामपुकार महतो, तुलसीदास जायसवाल, गौतम सागर, जयश्री मोहंता, गुलाब चंद्र, ज्ञानेश जायसवाल, जीवन जगन्नाथ, निरुलाल मांझी, लालदीप सोरेन, नारायण गोप, हबीब नाज, गायत्री देवी, सुनीता देवी, सकीना बानो, हेमंत कुमार, विकास गोस्वामी, शेखर, मिथिलेश कुमार व अन्य सामाजिक कार्यकर्ता मौजूद थे।