सोहराय पर्व झारखंडी सभ्यता व संस्कृति का प्रतीक है: चन्द्रप्रकाश चौधरी

रामगढ़ से वली उल्लाह की रिपोर्ट

रामगढ़: नगर परिषद क्षेत्र के वार्ड नं 27 हुहुवा की ओर से सोहराय पर्व बरद खूटा धूमधाम से मनाया गया। कार्यक्रम के बतौर मुख्य अतिथि गिरिडीह सांसद चन्द्रप्रकाश चौधरी एवं विशिष्ट अतिथि नगर परिषद अध्यक्ष युगेश बेदिया,उपाध्यक्ष मनोज़ कुमार महतो उपस्थित हुए एवं फीता काटकर कार्यक्रम का शुभारंभ किये।
कार्यक्रम के दौरान बैलों को पारंपरिक रीति रिवाज से पूजा अर्चना की गई। बैलों को खूंटे से बांध कर उसकी पूजा अर्चना की गई। इसके बाद मांदर की थाप पर बैलों को खूब नचाया गया। इस दौरान सांसद चन्द्रप्रकाश चौधरी सहित अन्य अतिथि मांदर की थाप पर थिरके।
मौके पर लोगो को सम्बोधित करते हुए सांसद चन्द्रप्रकाश चौधरी ने कहा कि सोहराय पर्व झारखंडी सभ्यता व संस्कृति का प्रतीक है। यह पर्व गाय,बैल,भैंस और मानव के बीच गहरा प्रेम स्थापित करता है। यह पर्व भारत के मूल निवासियों के लिए विशिष्ट त्यौहार है। क्योंकि भारत के अधिकांश मूल निवासी खेती -बारी पर निर्भर है। खेती बारी का काम बैलों व भैंसों के माध्यम से की जाती है। इसीलिए सोहराय पर्व में पशुओं को माता लक्ष्मी की तरह पूजा जाता है।
बरदखूटा कार्यक्रम के पश्चात आर्केस्ट्रा का आयोजन किया गया जिसमें सभी ग्रामीण वासी झारखंडी गानों पर खूब तिरके।
कार्यक्रम में मुख्य रूप से समाजसेवी धनेश्वर महतो,आजसू पार्टी नगर परिषद सचिव राजेन्द्र महतो,विभावि प्रभारी राजेश महतो,वार्ड पार्षद सह कमिटी संरक्षक रौशन कुमार,देवधारी महतो,चितु महतो,पार्षद प्रतिनिधि अरविंद महतो,मनोज़ महतो,किशुन मुंडा,महेंद्र चौधरी,नरेश महतो,मनोज़ कुमार, नीतीश निराला,अनिल पटेल,राजेश महतो,लाल बाबू मुंडा,सूरज साव,विवेक महतो,विजय महतो,दयानंद महतो,लखन महतो,रामवृक्ष महतो,सेवालाल महतो,शिबू बेदिया,विवेक कुमार,अजय कुमार, आदि अन्य लोग उपस्थित थे।